खाद की कालाबाज़ारी पर चला सरकारी हथोड़ा, 601 कट्टे मौके से जप्त कर सील कर दिया गया गोदाम

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

खाद की कालाबाज़ारी पर चला सरकारी हथोड़ा, 601 कट्टे मौके से जप्त कर सील कर दिया गया गोदाम

    खाद की कालाबाज़ारी और ओवर रेट की लूट जारी, बीटीपी को दर्ज करवानी पड़ी एफआईआर
  बांसवाड़ा/राजस्थान।। राजस्थान के बांसवाड़ा जिले के पाटन में खाद की कालाबाजारी करना व्यापारी को भारी पड़ गया है, कालाबाज़ारी के तहत सरकारी जाँच कर्ताओं द्वारा मौके पर दुकान सील कर दी गई है। वही मौके से लगभग 601 बोरी युरीया खाद की कृषि विभाग ने जप्ती को भी अंजाम दिया है, साथ ही खाद को बाटने का जिम्मा लेम्स को दिया गया है। बताते चले की जब-जब भी ग्रामीण क्षेत्रों में खरीब या रबी की फसल को बोने का समय आता है तब गरीब जनजातीय वर्ग के लोगो को खाद, बीज तथा दवाईयों की फसलों के लिए ज़रुरत पड़ती है, ऐसे में खाद, बीज व दवाई बेचने वाले व्यापारी कालाबाजारी करने उतर आते है।  
Raid on manure black marketing
  आपको बता दे की राजस्थान के बांसवाड़ा जिले सहित कुशलगढ़ में भारतीय ट्रायबल पार्टी बिटीपी ने गत 25 जुलाई को क्षेत्र में खाद की कालाबाजारी की रोकथाम को लेकर कुशलगढ़ एसडीएम को ज्ञापन सौंपा था, जिसमें प्रशासन ने खाद की कालाबाजारी को लेकर संज्ञान भी लिया था। लेकिन फिर भी खाद की कालाबाजारी करने वाले एक व्यापारी ने पाटन में खाद को ज्यादा कीमत पर बेचना शुरू कर दिया। 
  वही जब बीटीपी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य विजय भाई मईडा सहित भारतीय ट्रायबल पार्टी बिटीपी के कार्यकर्ता उक्त पाटन व्यापारी के गोदाम पर पहुंचे इस मौके पर हो रही कालाबाज़ारी की सूचना उन्होंने कुशलगढ़ तहसीलदार विरेन्द्र सिंह राठोड़, पाटन पुलिस थाना के अधिकारी अमरसिंह व कृषि विभाग को इस बाबत उचित कार्रवाई हेतु सूचना दी साथ ही कालाबाज़ारी की माकूल रोकथाम के लिए पुलिस में रिपोर्ट भी दी गई। जिस पर कृषि विभाग के अधिकारी मानसिंह वडखिया ने मौके पर व्यापारी के पास खाद का लाईसेंस नहीं होने, कालाबाजारी करने पर खाद के गोदाम को सील कर दिया गया था। वहीं सील लगने के बाद कृषि विभाग के सहायक निदेशक द्वारा शुक्रवार को रात्रि पोने बारह बजे के लगभग उक्त कालाबाज़ारी के गोदाम पर जाँच कर खाद के 601 कट्टे मौके से जप्त कर, उक्त खाद को पाटन स्थित लैम्स गोदाम मे शिफ्ट कर कृषि विभाग के अधिकारी ने बताया कि जो खाद शेष है, उसे भी लेम्स गोदाम में रखवाया जाएगा व सम्बंधित कालाबाज़ारी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। वहीं भारतीय ट्रायबल पार्टी बिटीपी ने कहा कि क्षेत्र में खाद की कालाबाजारी करने वालों पर कड़ी नजर रख रहे हैं। बिटीपी का कहना है कि यदि कालाबाजारी पर अंकुश नहीं लगा तों बीटीपी आंदोलन करेंगी। 
खाद की कालाबाज़ारी को लेकर पहले क्या घटनाक्रम हुआ था? 
 पुलिस, तहसीलदार सहित कृषि अधिकारी भी कार्रवाई के लिए मौके पर पहुंचे
 कालाबाज़ारी और ओवर रेट लेने वाले 3 व्यापारियों की दुकाने कर दी गई सील
FIR on manure black marketing 
 रातों रात लखपति और करोड़पति बनने की भावना कुछ लोगो के दिमाग में ऐसी जा घुसी है की खाद की कालाबाज़ारी को लेकर तमाम मिडिया में कई खबरे प्रकाशित होने के बाद भी कुछ लोग उस पर ओवर रेट लेने से अब भी परहेज़ नहीं कर रहे है। राजस्थान के बांसवाड़ा की कुशलगढ़ तहसील के पाटन में खाद की कालाबाजारी को लेकर बीटीपी ने एक बार फिर कालाबाज़ारी करने वालों के विरुद्ध मोर्चा खोल एतराज जताया है।  
FIR on manure black marketing
खाद की बिक्री 450 से 500 रुपये तक की जा रही 
  राजस्थान के बांसवाड़ा जिले के कुशलगढ़ उप खंड क्षेत्र के खेड़ा धरती घाटा क्षेत्र के पाटन पुलिस थाना से महज 200 मीटर की दुरी पर खाद की कालाबाजारी करने की सूचना पर बीटीपी यानी की भारतीय ट्रायबल पार्टी एक बार फिर कालाबाज़ारी करने वालों के खिलाफ मैदान में उतर गई है। 
  बीटीपी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य विजय भाई मईडा ने पाटन पहुँच कालाबाजारी करने वाले सुरेश अग्रवाल के गोदाम पर अचानक निरीक्षण किया तो मौके पर व्यापारी खाद के 450 से 500 रुपये तक ओवर रेट लेकर खाद बेचते हुए पाया गया।  
FIR on manure black marketing
व्यापारी हुआ आग बबुला
   वही मईडा ने कालाबाजारी करने वाले व्यापारी से जब इस सम्बन्ध में पुछा तो व्यापारी आग बबुला हों गया तथा बगले झांकते रहा। बीटीपी के विजय मईडा ने बताया की कुशलगढ़ में खाद की कालाबाजारी को लेकर 25 जुलाई को कुशलगढ़ उपखंड अधिकारी को पहले ही कुशलगढ़ क्षेत्र में खाद की कालाबाजारी की रोकथाम के लिए ज्ञापन दिया चूका है। 
  वही कालाबाज़ारी को लेकर प्रशासन द्वारा दी गई चेतावनी के उपरांत भी खाद के व्यापारीयो ने ऊंचे दामों पर खाद की कालाबाजारी करने की अपनी अतिलालसा पर अंकुश नहीं लगाया है, जिस पर आज पाटन में खाद की कालाबाजारी करने की सूचना पर बीटीपी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य विजय भाई मईडा ने अपने कार्यकर्ताओं सहित मौके पर दबिश दी।  
FIR on manure black marketing
पुलिस और तहसीलदार सहित कृषि विभाग के अधिकारी भी पहुंचे मौके पर 
   जानकारी अनुसार मईडा ने खाद की कालाबाज़ारी और ओवर रेट को लेकर कुशलगढ़ तहसीलदार व कृषि विभाग को इसकी सूचना दी जिस पर पुलिसकर्मी एवं तहसीलदार वीरेंद्र सिंह राठौड़ के अलावा थोड़े समय बाद कृषि विभाग के कृषि पर्वेक्षक अधिकारी मानसिंह वडखिया भी मौके पर पहुंचे। वही मईड़ा ने कालाबाजारी को लेकर पुलिस में रिपोर्ट भी दर्ज कराई है। जिस पर कार्रवाई करते हुए कृषि पर्वेक्षक मान सिंह वड़खिया द्वारा मौके पर कालाबाज़ारी करने वाले व्यापारियों की तीन दुकानों को सील करने की कार्रवाई को अंजाम दिया गया। 
Agriculture officer
 मईडा ने बताया कि अगर खाद की कालाबाजारी नहीं रोकी गई तो भारतीय ट्रायबल पार्टी खाद बेचने वाले कालाबाजारियो के खिलाफ कुशलगढ़ उप खंड कार्यालय पर उग्र धरना-प्रदर्शन करेगी जिसकी समस्त जिम्मेदारी राजस्थान सरकार व प्रशासन की रहेगी। वही कार्रवाई के दौरान मौके पर महेश बारीया, शानु, नारायण सिंगाड सहित बीटीपी के कई कार्यकर्ता मोजुद रहे। 

Ad Code