अन्ना हजारे के अनशन का आज छठा दिन, मनाने में जुटी केंद्र सरकार

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

अन्ना हजारे के अनशन का आज छठा दिन, मनाने में जुटी केंद्र सरकार


Image may contain: 2 people, people sitting    नई दिल्ली।। सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे की अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल आज छठ दिन में प्रवेश कर गई। अन्ना हजारे के सक्षम किसान, सशक्त लोकपाल और चुनाव सुधार सहित 11 मांगों पर प्रधानमंत्री कार्यालय में मंत्रियों के बीच चर्चा हुई। इसके बाद मंगलवार देर शाम महाराष्ट्र के जल संसाधन मंत्री गिरीश दत्तात्रेय महाजन अन्ना से मिलने रामलीला मैदान पहुंचे। उनके साथ बंद कमरे में दो घंटे से ज्यादा बातचीत की।
23 मार्च से अनशन पर बैठे हैं अन्ना हजारे
     रामलीला मैदान में समाजसेवी अन्ना हजारे 23 मार्च से अनशन पर बैठे हैं। लोकपाल और किसानों की मांग को लेकर अड़े अन्ना ने पांचवें दिन कहा कि उन्हें थोड़ी थकावट महसूस हो रही है। इसके बावजूद चिंता की कोई बात नहीं है। उन्होंने मीडिया में कम कवरेज का जिक्र भी किया। अन्ना ने बताया कि यह आंदोलन चरित्र पर आधारित है। इसलिए भीड़ और मीडिया कवरेज की कोई चिंता नहीं है। 285 आंदोलनकारी रामलीला मैदान में अनशन कर रहे हैं। दुर्भाग्यपूर्ण यह है कि उनके स्वास्थ्य जांच करने की जिम्मेदारी भी प्रशासन को याद नहीं है। सरकार की ओर से लगातार प्रतिनिधि चर्चा के लिए आ रहे हैं। काफी मुद्दों पर सकारात्मक चर्चा शुरू है।
सोशल मीडिया के जरिए देश के कोने-कोने तक पहुंच रहा है आंदोलन
      अन्ना ने आशा जताई है कि जनहित में अच्छे निर्णय होंगे। जब तक ठोस निर्णय नहीं होते, तब तक अनशन सत्याग्रह जारी रहेगा। अन्ना कोर कमेटी सदस्य और मीडिया प्रमुख जयकांत मिश्रा ने बताया कि देश में 11 राज्यों के कई शहरों में धरना और अनशन के माध्यम से समर्थन में आंदोलन जारी है। सोशल मीडिया के जरिए आंदोलन देश के कोने-कोने में तक पहुंच रहा है। अन्ना ने यह जानकारी अपने फेसबुक अकाउंट पर भी साझा की है।

Ad Code