Headline News
Loading...

Ads Area

मेडम आपकी अनदेखी कही मोदी सरकार के पतन का कारण ना बन जाए

    राजस्थान का बांसवाड़ा शहर आए दिन किसी ना किसी मुद्दे को लेकर अक्सर चर्चा में रहता है हाल ही में शहर में कुछ खास देखने को मिला। जिले की कुछ आक्रोशित आम जनता ने अपने ही नगर परिषद् की सभापति की छवि को गधे पर विराजमान कर ना कैवल शहर भर में घुमाया बल्कि गधे के गर्दन में एक शिकायती तख्ती भी लटका दी। फिर क्या था देखने वालों ने भी यह सब हास्यास्पद व्यंग देखकर खूब हसी मजाक बनाया। पिछले कई वर्षों से शहर की जनता नगर परिषद् बांसवाड़ा के कार्यों की प्रति लापरवाही से खासी नाराज़ है, आए दिन शहर में बीजेपी की सरकार और परिषद् के खिलाफ कोई ना कोई विरोध प्रदर्शन कही ना कही पर देखने को मिल ही जाता है।
     जानकारी अनुसार शहर की चरमराई व्यवस्था से नाराज कुछ लोगो ने एक गधे को गुलाल लगाकर उसके दोनों तरफ जिले की सभापति श्रीमती मंजूबाला पुरोहित के पोस्टर टांग दिए, साथ ही गधे के गले में अपनी शिकयतों से भरी हुई एक तख्ती भी लटका दी, जिस पर लिखा था नगर परिषद् बांसवाड़ा से आमजन परेशान, शहर की सड़के और नालिया टूटी हुई है, और गंदगी से पूरा शहर अटा पड़ा है, और तो और शहर में लावारिस पशुआ का चारो तरफ जमावड़ा और चूका है। मौके पर मौजूद लोगो ने यह सब देख कर ना केवल इस प्रदर्शन का मजाक बनाया बल्कि सभापति के लिए कई तरह की हास्यास्पद बाते भी बनाई। कुछ लोगो ने तो इसका विडिओ बनाकर सोशल मिडिया पर वाइरल भी कर दिया।
    नाराज लोगो का कहना है की नगर परिषद् और सभापति को राज्य के मंत्री महोदय धनसिंह सीधे तौर पर हस्क्षेप कर हेंडल कर रहे है। लोगो ने बताया की जिन्हे राज्य मंत्री का दर्जा दिया हुआ और जिन पर राज्य की जिम्मेदारी का भार है ऐसे मंत्री मोहदय सदैव जिले में रहकर एक छोटी सी परिषद् की मंत्रीगिरी करना ज्यादा पसंद कर रहे है। विगत चुनावों में मोदी की लहर में राज्य की जनता ने बीजेपी के अधिकांश प्रत्याक्षियों को आँखे मूंद कर मोदी के नाम पर ठप्पा लगा दिया लेकिन हकीकत में मोदी के नाम पर जीते हुए मंत्री, विधायक, सांसद, प्रदान, सरपंच हो या सभापति व पार्षद सब को नेतागिरी का ऐसा बुखार चढ़ा है की आम जनमानस को अपना गुलाम समझने लगी है। यही नहीं जो इनके कुकर्मों के खिलाफ आवाज़ उठाता है उन्हें अतिक्रमण के नाम पर नगर परिषद् डराने-धमकाने पहुंच जाती है। आए दिन जिस तरह सरकारी नौकरशाहों का आमजनता को ब्लेकमैल करने के लिए उपयोग किया जा रहा है, निःसंदेह वह वसुंधरा और मोदी सरकार के पतन का कारन बनेगा।     

Post a Comment

0 Comments