Headline News
Loading...

Ads Area

रावण दहन पर मंच पर ही भिड़ गए भाजपा के मंत्री

      दशहरा के मौके पर हरियाणा की सियासत में वो हुआ जिसकी बीजेपी ने शायद ही कभी उम्मीद की होगी. फरीदाबाद में रावण दहन के वक्त हजारों लोगों के सामने ही केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य कृष्णपाल गुर्जर और हरियाणा के उद्योग एवं पर्यावरण मंत्री विपुल गोयल आपस में भिड़ गए. दोनों में तीखी नोंक-झोंक हुई.
     दोनों मंत्री रावण-दहन के अवसर पर अतिथि के रूप में मौजूद थे. यहां दशहरा मनाने को लेकर दो पक्षों में चल रही तनातनी के सहारे इन दो मंत्रियों के बीच चल रहा 'शीतयुद्ध' सियासी अखाड़े में बदलकर सबके सामने आ गया. दोनों मंत्रियों के बीच हुई झड़प का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. दोनों मंत्री रावण-दहन के अवसर पर अतिथि के रूप में मौजूद थे. यहां दशहरा मनाने को लेकर दो पक्षों में चल रही तनातनी के सहारे इन दो मंत्रियों के बीच चल रहा 'शीतयुद्ध' सियासी अखाड़े में बदलकर सबके सामने आ गया. दोनों मंत्रियों के बीच हुई झड़प का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.
     साथ ही मीरापुर, यूपी से बीजेपी के विधायक अवतार भड़ाना ने कहा, "बीजेपी में ऐसे लोगों का कोई स्थान नहीं है जो जनता को लूटता हो, सताता हो, ऐसे लोगों का पतन होगा. आने वाले समय में ऐसे राजनीतिक रावणों का दहन होगा." आमतौर पर सौम्य रहने वाले गुर्जर का पारा इतना सुनने के बाद चढ़ गया. जब उन्होंने विपुल को कुछ कहा तो विपुल ने भी गुर्जर पर हमला बोल दिया. दोनों बीजेपी के वरिष्ठ नेता हैं. कुछ साल पहले तक दोनों में अच्छे संबंध थे.
     इस पर गुर्जर ने विपुल गोयल का नाम लिए बिना ही कहा कि बहुत से लोगों को मैं राजनीति में लेकर आया. कभी किसी की जमीन पर कब्जा नहीं किया, किसी के पैसे नहीं मारे. इससे पहले विधायक सीमा त्रिखा ने भी शब्दबाण चलाए. उन्होंने कहा, राजनीति में उसका अंत निश्चित है जो अपनी मर्यादा भूल जाता है.
     विपुल गोयल ने कृष्णपाल गुर्जर पर दशहरा पर्व में विवाद पैदा करने का आरोप लगा दिया. हालांकि गुर्जर ने कहा कि इस मामले में उनका कोई लेना देना नहीं है, मगर विपुल उनके तर्क से सहमत नहीं थे और लगातार कृष्णपाल गुर्जर पर हमला करते रहे.

Post a Comment

0 Comments