IAS–IPS को जाल में फंसाती थी ये हसीना, मिली ऐसी मौत

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

IAS–IPS को जाल में फंसाती थी ये हसीना, मिली ऐसी मौत

    जयपुर राजस्थान के तेज तर्रार पुलिस अफसर ने ख़ुदकुशी तो कर ली मगर साथ साथ अपने जिस साथी महिला को गोली मारी उसके रैकेट का खुलासा भी कर गए. जयपुर के एंटी टेरर स्क्वायड के एडिशनल एसपी आशीष प्रभाकर ने अपने सुसाईड नोट में इस महिला की हरकतों का खुलासा किया है.
पूनम नाम की यह महिला फिलहाल आशीष को अपने जाल में इस कदर फंसा चुकी थी कि उनका अपनी पत्नी से विवाद शुरू हो गया था और मामला तलाक की हद तक बढ़ गया था. पूनम के बाद खुद को गोली मारने से पहले आशीष ने ही पुलिस कंट्रोल रूम को खबर दे दी थी.
     अपने स्युसाईड नोट में आशीष ने पूनम के बारे में लिखा है- “आज में पुलिस आफिसर होने के नाते इंसाफ करने आया हूं. पिछले चार साल से ये लड़की मेरे साथ प्यार का नाटक कर मुझे और मेरे परिवार को तबाह कर रही है. ये लड़की कोचिंग के नाम पर कुछ अधिकारीयों और कुछ लोगों को फंसाती थी. अगर इस लड़की के बारे में ये जानना चाहते हैं तो लिखे हुए पांच लोगों के नाम और नंबरों से पूछ लें. इस रैकेट में विरेंद्र मीणा के साथ ये लड़की ब्लैकमेलिंग करती थी.
    आशीष ने पूनम को मारने से पहले अपनी फेसबुक वॉल पर भी लिखा है कि पुलिस में होने के साथ ही मेरी मोरल ड्यूटी बनती है कि मैं इंसाफ करुं.
     बीते 4 साल से पूनम आशीष के साथ मिल कर एक कोचिंग चलाती थी, बताया जाता है कि इस कोचिंग में दुसरे कई आईएएस अधिकारियों का पैसा भी लगा था. आशीष के साथ उसका अफेयर परवान चढ़ने लगा तब आशीष की पत्नी से तकरार बढ़ गयी और वह अलग हो गयी. पूनम का भी अपनी पति से तलाक हो गया था.
    जयपुर के डीसीपी मनीष अग्रवाल के मुताबिक पुलिस ने एएसपी के पास मिले ब्रीफकेस से दो सुसाइड नोट भी बरामद किए. आशीष ने एक सुसाइड नोट पत्नी के नाम और दूसरा पुलिस के नाम लिखा था. पत्नी को लिखे सुसाईड नोट में लिखा है कि मैं अपने परिवार के साथ इंसाफ नही कर रहा हूं, बच्चों को पढ़ाना चाहता हूं. तुम परेशान मत होना और दुखी मत होना.

Ad Code