दलित आंदोलन : हुआ बड़ा खुलासा, हिंसा भड़काने के लिए हुई थी फंडिंग

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

दलित आंदोलन : हुआ बड़ा खुलासा, हिंसा भड़काने के लिए हुई थी फंडिंग

     मध्य प्रदेश के आईजी इंटेलिजेंस मकरंद देउस्कर ने खुलासा किया है कि मध्यप्रदेश हिंसा में दंगे फैलाने के लिए संगठनों को मोटी रकम दी गई थी. उन्होंने कहा कि पूरे मामले की जांच इंटेलिजेंस कर रहा है. और जल्द ही इंटेलिजेंस मामले का खुलासा करेगा. उन्होंने कहा कि हिंसा में फंडिंग करने वालों को इंटेलिजेंस ने किया चिन्हित फंडिंग करने वाले प्रदेश के सामाजिक संगठनों से जुड़े हैं.
      आईजी ने बताया कि भिंड मुरैना और ग्वालियर में शांति है. ग्वालियर के तीन थाना इलाके में ही कर्फ्यू जारी है, भिंड मुरैना के शहरी इलाकों में रात का कर्फ्यू जारी है. वहीं उनका कहना है कि हिंसा वाले इलाकों में प्रशासन लाइसेंस शस्त्र निरस्त कर रहा है.
     आईजी ने कहा कि ग्वालियर में 2700 मुरैना में 1900 भिंड में चार हजार शस्त्र जमा किये जा चुके हैं. ग्वालियर में चार प्रकरण दर्ज हुए आईटी एक्ट के तहत, चार लोगों को भड़काऊ पोस्ट करने पर गिरफ्तार किया है.
    गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में भारत बंद के दौरान हुई हिंसक घटनाओं में आठ लोगों की मौत हो गई थी, जबकि सैकड़ों लोग घायल हो गए थे. इस दौरान मध्य प्रदेश के ग्वालियर-चंबल जिलों के कई स्थानों पर भड़की हिंसा में पांच लोगों की मौत के अलावा बड़ी संख्या कई अन्य घायल हो गए हैं. हालात बिगड़ने पर राज्य के कई हिस्सों में कर्फ्यू लगा दिया गया था और इंटरनेट सेवा निलंबित कर दी गई थी.


Ad Code