Headline News
Loading...

Ads Area

नाम बाबा अमरपुरी, काम 120 महिलाओं का बलात्कार

Image may contain: 3 people, people standing      हरियाणा के जिला फतेहाबाद स्थित टोहाना में बने बाबा बालकनाथ मंदिर के अमरपुरी उर्फ बिल्लू व जलेबी बाबा के नाम से मशहूर पुजारी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। एक वायरल हुए वीडियो के बाद खुलासा हुआ कि इसने 120 महिलाओं से जबरन शारीरिक संबंध बनाए।
      वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने अमरपुरी को गिरफ्तार किया और फिर उसके ठिकाने पर छापेमारी की। इस दौरान पुलिस को इस पुजारी के 120 महिलाओं से संबंध बनाने के वीडियो मिले। आरोप है कि अमरपुरी उर्फ बिल्लू प्रेतबाधा के नाम पर महिलाओं को फंसाता था और तंत्र विद्या के दौरान नशीली दवा दे देता था। बेहोशी की हालत में पीडि़ता से रेप करता था और उसका वीडियो बना लेता था। फिर महिलाओं को ब्लैकमेल कर उनका शारीरिक और आर्थिक शोषण करता था। 
     पुलिस का कहना है कि हरियाणा के टोहाना में बने बाबा बालकनाथ मंदिर के पुजारी अमरपुरी उर्फ बिल्लू का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद उन्हें इसकी जानकारी मिली। डीएसपी जोगेंद्र शर्मा ने गुरुवार को तीन पुलिस टीमें बनाईं और बिल्लू को गिरफ्तार करने के आदेश दिए। पुलिस ने बिल्लू के खिलाफ बलात्कार, आईटी एक्ट, ब्लैकमेलिंग आदि धाराओं में मुकदमा दर्ज किया। गिरफ्तारी के दौरान की गई छापेमारी में पुलिस को बाबा के पास से 120 वीडियो बरामद हुए। इन वीडियो को बिल्लू ने महिलाओं के साथ शारीरिक संबंध बनाने के दौरान रिकॉर्ड किया। इसके अलावा पुलिस ने तंत्र-मंत्र का तमाम सामान और नशीली गोलियां भी बरामद की हैं।
     पुलिस के मुताबिक पुजारी का असल नाम अमरवीर है और वो पंजाब के मानसा से करीब 20 साल पहले हरियाणा के टोहाना में आ गया था। बिल्लू ने यहां जलेबी की दुकान भी लगाई और कुछ स्थानीय लोग उसे जलेबी बाबा भी पुकारते थे। काफी पहले इसकी पत्नी की मौत हो चुकी है। पत्नी के चले जाने के बाद बिल्लू ने पंजाब में करीब दो वर्षों तक तंत्र-मंत्र विद्या सीखी और फिर वापस लौट आया।
     जलेबी बाबा यानी बिल्लू तंत्र-मंत्र के अलावा सम्मोहन भी कर लेता था और इसी के दम पर वह महिलाओं को अपने कब्जे में कर लेता था। अपनी फरियाद लेकर उसके पास पहुंचने वाली महिलाओं को वो झाड़-फूंक के नाम पर नशीली दवा खिलाकर बेहोश करने के बाद घिनौनी हरकत करता था। बिल्लू ने अपना कमरा भी ऐसे बनाया था कि वो इन कामों का अंजाम दे सके। तीन दरवाजों वाले इसके कमरे में वो गुप्त रास्ते से अपना शिकार लाता था और समाधि जैसी बनी जगह पर दुष्कर्म करता था। यहां उसने छिपे हुए सीसीटीवी कैमरे लगा रखे थे, जिनसे वो दुष्कर्म का वीडियो बनाता था।
     पुलिस ने इस संबंध में दो महिलाओं और एक पुरुष को भी हिरासत में लिया है। वहीं, अदालत ने अमरपुरी को पांच दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। पुलिस ने अमरपुरी का शिकार बन चुकीं महिलाओं से सामने आकर उसके खिलाफ रिपोर्ट लिखाने की भी अपील की है। बता दें कि करीब नौ माह पहले भी पुलिस ने अमरपुरी को बलात्कार के एक मामले में गिरफ्तार किया था। एक महिला द्वारा दर्ज कराए गए केस में पुलिस ने पहले उसे पकड़ा लेकिन बाद में वह जमानत पर बाहर निकल आया था।

Post a Comment

0 Comments