Headline News
Loading...

Ads Area

बीमार पति को पीठ पर लाद सड़कों पर निकली तो इस घूंघट डाले पत्नी को देख लोग रह गए दंग

Image may contain: 1 person, shoes and indoorबीमार पति को पीठ पर लाद सड़कों पर निकली, जिसने भी देखा रह गया दंग

    हमीरपुर।। वह थकी, हांफी, लेकिन रुकी नहीं. अपने बीमार चलने फिरने से लाचार पति को पीठ पर लाद सड़कों पर निकली, तो इस घूंघट डाले पत्नी को देख लोग दंग रह गए. किसी ने वीडियो बनाया, किसी ने फोटो लिए, रोकने की कोशिश की, लेकिन महिला पति को लेकर चलती रही. उसकी ये तस्वीरें वायरल हो रही हैं. आज के समय में पत्नी का ये रूप देख लोग हैरत में हैं. मामला हमीरपुर का है. महिला का पति बीमार है. और चलने फिरने को नाकाम है. महिला को अपने पति को इलाज के लिए ट्रेन के जरिए ग्वालियर ले जाना था, लेकिन रात में कोई साधन नहीं मिलने पर महिला ने पति को पीठ पर लादा और स्टेशन के लिए निकल पड़ी.
     बताया जा रहा है कि हमीरपुर के कस्बा राठ के पठानपुरा मोहल्ले के रहने वाले गिरजानंदन कुशवाहा कुछ दिनों से बीमार हैं. अब वह अपने पैरों से चलने फिरने से भी लाचार हो गए. स्थिति अपाहिज होने जैसी है. गिरजानंदन की देखभाल पत्नी रामश्री करती है. बताते हैं कि गिरजानंदन का इलाज मध्य प्रदेश के ग्वालियर में जाना था. ट्रेन हरपालपुर रेलवे स्टेशन से रात में थी. वह पहले राठ कसबे से हरपालपुर जाने के लिए बस में सवार होने को निकली, लेकिन कोई वाहन नहीं मिला. वह घर से बस अड्डे तक पीठ पर लादकर चल पड़ी. पति को बस अड्डे तक पहुंचाया और बस में सवार होकर हरपालपुर पहुंची. रात में हरपालपुर बस अड्डे से यहां के रेलवे स्टेशन तक पहुंचना था, लेकिन सवारी नहीं मिलने पर उसने फिर से पति को पीठ पर लाद लिया.
महिला पति को लेकर कई किलोमीटर तक पैदल चली. महिला घूंघट डाले हुए थी. उसने घूंघट नहीं हटने दिया. लोगों ने जैसे ही रेलवे स्टेशन की ओर बढ़ते हुए महिला को देखा तो तस्वीरें लेना शुरू कर दिया. पति के प्रति प्यार और समर्पण देख लोग दंग रह गए. लोगों का कहना है कि ऐसा कम ही होता है. इस तरह का समर्पण वाकई हैरान करने वाला है. वहीँ, महिला रामश्री ने कहा कि मुश्किल में वह ही ख्याल रखेगी. कोई और नहीं. वाहन नहीं मिला, इसलिए उसे ऐसा करना पड़ा. सुख में साथ चले, तो दुःख में भी साथ चलना है. रामश्री कहती है कि उसे उम्मीद है कि पति जल्द ही ठीक हो जाएंगे.

Post a Comment

0 Comments