Headline News
Loading...

Ads Area

एक महिला अध्यक्षा बनने की सजा कितनी खौफनाक है?

हत्या निंदनीय है
    ऊत्तर प्रदेश बार कौन्सिल के लिए बनी नवनियुक्त अध्यक्ष कि गोली मारकर हत्या निंदनीय है! एक महिला अध्यक्षा बनने की सजा कितनी खौफनाक है, इस दिलदहलाने वाली घटना को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता! ऑल जर्नालिस्ट अँड फ्रेंड्स सर्कल भारत राष्ट्रीय पत्रकार संघटन इस घटना का कडी शब्दों में निंदा करता है, ये हत्या मानवता के खिलाफ है! 
यूपी बार काउन्सिल अध्यक्ष की हत्या पर हाईकोर्ट ने यूपी सरकार को दिया निर्देश
   प्रयागराज।। उच्च न्यायालय इलाहाबाद ने यूपी बार काउन्सिल की अध्यक्ष दरवेश यादव की बुधवार को आगरा सिविल कोर्ट में हत्या कर देने की घटना की कड़ी निंदा करते हुए हाईकोर्ट इलाहाबाद व इसकी लखनऊ बेंच समेत प्रदेश के सभी जिला अदालतों में वकीलों व न्यायिक प्रक्रिया से जुड़े लोगों के लिए तत्काल प्रभावी कदम उठाने का प्रदेश सरकार को निर्देश दिया है।
    आगरा में हुईं इस दुखद घटना पर चिंता व्यक्त करते हुए हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल ने एक पत्र जारी कर कहा कि हाईकोर्ट अदालतों की सुरक्षा से सम्बंधित वह सारे कदम उठाएगा, जिससे न्यायिक प्रक्रिया से जुड़े लोगों को कोई परेशानी न हो। चेयरमैन दरवेश यादव की हत्या पर हाईकोर्ट ने बार काउन्सिल को शोक संदेश भी भेजा है।
   वहीं इस घटना से प्रदेश भर के अधिवक्ताओं में शोक की लहर दौड़ गयी है। इलाहाबाद हाई कोर्ट बार एसोसिएशन के सचिव जे बी सिंह, अध्यक्ष राकेश पांडेय, प्रयागराज अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष एन के चटर्जी, व सचिव राजेश त्रिपाठी, अखिल भारतीय अधिवक्ता परिषद सह मंत्री एस पी राय, बार काउंसिल ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन वी सी मिश्र आदि तमाम बार संगठनों व अधिवक्ताओं ने गहरा शोक व्यक्त किया है और घटना को दुखद व अपूरणीय क्षति बताया है। अधिवक्ताओं ने मृत आत्मा की शांति की ईश्वर से प्रार्थना की।
    बता दें कि दो दिन पहले ही दरवेश यादव उत्तर प्रदेश बार काउंसिल की अध्यक्ष निर्वाचित हुई थीं। यूपी बार काउंसिल के इतिहास में वे पहली महिला अध्यक्ष बनी थीं। यूपी बार काउंसिल का चुनाव रविवार को प्रयागराज में हुआ था। दरवेश सिंह और हरिशंकर सिंह को बराबर 12-12 वोट मिले। दरवेश सिंह के नाम एक रिकॉर्ड यह भी है कि बार काउंसिल के 24 सदस्यों में वे अकेली महिला हैं। चुनाव मैदान में कुल 298 प्रत्याशी थे।

Post a Comment

0 Comments