जहरीले वायरस बने जमाती, नर्सों को देख मारी सीटी, कहा हमारे साथ चलो जन्नत की सैर कराऊँगा

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

जहरीले वायरस बने जमाती, नर्सों को देख मारी सीटी, कहा हमारे साथ चलो जन्नत की सैर कराऊँगा

FIR registered against patients from Tablighi Jamaat for alleged ...हॉस्पिटल से आई शिकायत छूने की कोशिश करते जमाती
       एक तरफ जहाँ पूरा देश कोरोना वायरस संकट से लड़ने में जुटा है, वहीं दूसरी तरफ तबलीगी जमात के कुछ सदस्य अपनी बेहूदगी से बाज नहीं आ रहे। ये जमाती अस्पताल की नर्सों के साथ बदतमीजी कर रहे हैं। बता दें कि गाजियाबाद के एमएमजी अस्पताल में नर्सों के साथ बदतमीजी करने, अश्लील इशारे करने और बिना कपड़ों के घूमने के बाद अब इन तबलीगी जमात के सदस्यों ने सुंदरदीप आयुर्वेदिक कॉलेज की महिला कर्मियों के साथ अभद्रता की है। 
    जमाती इनके साथ बदतमीजी करने के साथ ही अश्लील टिप्पणियाँ भी कर रहे हैं। कोई कह रहा है कि हैदराबाद चलो, वहाँ जन्नत की सैर कराएँगे, तो वहीं कोई कुछ और कह रहा है। सुंदरदीप आयुर्वेदिक कॉलेज ने इस संबंध में कॉलेज प्रशासन से शिकायत की है। इसमें कहा गया है कि सभी आरोपित मरकज से निकले हुए हैं और ये तरह-तरह से नर्सिंग कर्मियों के साथ अभद्रता कर रहे हैं। इलाज के दौरान ये जमाती कभी इन्हें हाथ लगाने की कोशिश करते हैं तो कभी इनको देखकर सीटी बजाते हैं, जन्नत दिखाने की बात कहते हैं। इसके अलावा भी कई अन्य तरीके से ये जमाती इनके साथ अभद्रता कर रहे हैं। 
    इस मामले पर गाजियाबाद के सीएमओ डॉ एनके गुप्ता का कहना है कि सुंदरदीप आयुर्वेदिक चिकित्सालय में महिला स्टाफ के साथ अभद्रता की सूचना मिली है। पूरे मामले की जाँच कराई जा रही है। मामले में कड़ी कार्रवाई की जाएगी। महिला स्टाफ के साथ अभद्रता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने बताया कि इस अस्पताल में निजामुद्दीन के मरकज से लौटे जमातियों के अलावा अन्य कई जमातों से लौटे करीब दो दर्जन से अधिक जमाती क्वारंटाइन वार्ड में भर्ती किए गए हैं। 
    गौरतलब है कि इससे पहले एमएमजी हॉस्पिटल में इस तरह की हरकतें सामने आई थी, जिसके बाद नर्स के सामने नंगा होने और बीड़ी-सिगरेट की डिमांड करने को लेकर जमात के 6 लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई थी। साथ ही इन्हें एमएमजी अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड से राजकुमार गोयल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में भी शिफ्ट कर दिया गया। 
    यूपी सरकार ने इस मामले में कड़ा रुख अपनाते हुए इनके खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत कार्रवाई की तैयारी शुरू कर दी है। साथ ही यह फैसला किया गया है कि प्रदेश में जहाँ भी तबलीगी जमात के लोगों को क्वारंटाइन किया गया है या फिर आइसोलेशन में रखा गया है, वहाँ न तो महिला स्वास्थ्यकर्मी की ड्यूटी लगेगी और न ही किसी महिला पुलिसकर्मी की तैनाती होगी। 
    नर्सों के साथ दुर्व्यवहार पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था, “ये ना कानून को मानेंगे, ना व्यवस्था को मानेंगे। ये मानवता के दुश्मन हैं। इन्होंने महिला स्वास्थ्यकर्मियों के साथ जो किया है वो जघन्य अपराध है। इन पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) लगाया जा रहा है। हम इन्हें छोड़ेंगे नहीं।”

Ad Code