कोरोना इफेक्ट : शादी के जोड़े की जगह हाथों में आ गई पीपीई किट

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

कोरोना इफेक्ट : शादी के जोड़े की जगह हाथों में आ गई पीपीई किट

हाथों में मेंहदीं की जगह गिलव्स…
शादी की सारी तैयारियां हो गईं थीं, पर शर्मिला ने कोरोना महामारी में ड्युटी को दी प्राथमिकता… 
“हम अपना फर्ज निभा रहे हैं, पत्थर मारने वाले भी अपना फर्ज निभाएं”…  
    लखनऊ/चंडीगढ़।। नर्स शर्मिला ने कोरोना वायरस महामारी के समय में देश की सेवा करना ज्यादा जरूरी समझा और अपनी शादी टाल दी। अब शादी के कपड़ों की जगह पीपीई किट ने ले ली है,चूड़े की ग्लव्स ने और दुप्पटे की जगह वह सर्जिकल कैप पहने हुए हैं। लॉकडाउन के दौरान शर्मिला ड्यूटी पर हैं। अपनी जिंदगी के सबसे अहम पलों को देरी से जीने का जिगरा रखने और इन हालातों में देश की सेवा को प्राथमिकता देने वाली नर्स शर्मिला के हाथों में 30 अप्रैल को धाम, लेडीज संगीत कार्यक्रम के बाद हाथ में मेहंदी लगनी थी। एक मई को तेल मुहूर्त, शंद के साथ साथ बरात को शर्मिला के द्वार पर आना था और 2 मई को शर्मिला की विदाई होनी थी।
    लेकिन कोरोना वायरस के कहर के चलते लगे लॉकडाउन में चंडीगढ़ की ग्रेन मार्केट में सेवाएं दे रही नर्स शर्मिला ने ड्यूटी पर रहने का फैसला करते हुए देश की सेवा को प्राथमिकता दी और अपनी शादी को पोस्टपोन कर दिया। बिलासपुर की रहने वाली शर्मिला चंडीगढ़ सेक्टर 49 डिस्पेंसरी में नर्स हैं। 7 अप्रैल से वो चंडीगढ़ की सब्ज़ी मंडी और ग्रेन मार्केट में आने वाले हजारों लोगो की स्क्रीनिंग करती हैं। हर रोज वह सुबह से शाम तक पीपीई किट पहनकर सब्ज़ी मंडी के उस गेट पर तैनात रहती हैं। यहां से सब्जी मंडी और ग्रेन मार्केट में आने वाले हजारों लोगों को एंट्री करनी होती है, यहां आने जाने वाले हर शख्स की वो स्क्रीनिंग करती है और साथ ही उनका हालचाल पूछते हुए उनकी डिटेल्स नोट करती है।
    नर्स शर्मिला के अनुसार उसकी सगाई 9 फरवरी को हुई थी और शादी की तारीख भी उसी दिन फाइनल कर दी गई थी।1 मई को उनकी शादी बिलासपुर में होनी थी लेकिन करोना वायरस के कारण चंडीगढ़ में कर्फ्यू लगा हुआ है और देश जिन हालातों में है उसमें उन्होंने अपनी ड्यूटी को प्राथमिकता दी। शर्मिला ने कहा कि शादी तो वो लॉकडाउन खुलने के बाद भी कर लेंगी लेकिन इस वक्त पर उनका ड्यूटी पर रहना जरूरी है।शर्मिला ने कहा उनका परिवार हो या उनका ससुराल हर किसी ने उनके फैसले पर सहमति जताई। शर्मिला ने कहा कि किसी को मालूम नहीं था कि यह लॉकडाउन इतना आगे तक चला जाएगा। शर्मिला को इस बात का कोई दुख नहीं है कि शादी के जोड़े की जगह उन्होंने पीपीई किट पहनी हुई है। उसने कहा कि ड्यूटी छोड़कर नहीं जाना चाहती हैं, इसीलिए शादी को पोस्टपोन कर दिया है।
   शर्मिला ने लोगों से अपील की कि हर एक वॉरियर कोई ना कोई सैक्रिफाइस करके अपनी ड्यूटी दे रहा है। लोगों को सहयोग करना चाहिए जो लोग पत्थर मारते हैं, उनको समझना चाहिए कि हम अपना फर्ज निभा रहे हैं और वो भी अपना फर्ज निभाएं।

Ad Code