Headline News
Loading...

Ads Area

कोरोना भगाने के लिए पुजारी ने एक व्यक्ति का सिर काटकर मंदिर में चढ़ाया

    उड़ीसा में कोरोना वायरस संकट के बीच एक हैरान कर देने वाला घटना सामने आया है। कटक जिले के नरसिंहपुर में एक मंदिर के पुजारी ने कोरोना वायरस भगाने के लिए एक व्यक्ति का सिर काटकर देवी माँ के मंदिर में चढ़ा दिया। पुजारी को विश्वास था की इससे देवी माँ खुश होगी और कोरोना संकट टल जायेगा। 
    वर्तमान के इस आधुनिक युग में इस प्रकार की घटिया मानसिकता यह दर्शाती है की अभी भी बहुत से लोगो में अंध विश्वास कूट-कूट कर भरी है। एक ओर जहाँ दुनिया चाँद , तारे में पहुंच गयी है दूसरी ओर अभी भी बहुत से लोग आज से कई सौ साल पीछे चल रही है। कटक जिले के अंतर्गत ग्राम बँधहुआ में इस प्रकार की रोंगटे खड़े कर देने वाले घटना को अंजाम दिया गया। 
    पुजारी ने पूछ ताछ में कबूला की उन्हें रात में देवी माँ ने सपने में आकर बोला की किसी व्यक्ति की बलि चढ़ाओगे तो कोरोना संकट टल जायेगा। ठीक अगले दिन पुजारी ने उक्त ब्राह्मणी देवी मंदिर परिसर में इस विभत्स घटना को अंजाम दिया। स्थानीय पुलिस ने हत्या के लिए प्रयुक्त हथियार को जब्त कर लिया है, और आरोपी पुजारी संसार ओझा से पूंछ ताछ कर रही है। आरोपी ने कोरोना वायरस को भगाने के नाम पर हत्या करना कबूल कर लिया है। 
    आरोपी से पूंछताछ में पता चला की पिछले रात देवी माँ मेरे सपने में आयी थी और कोरोना संकट को टालने के लिए बलि का आदेश दी थी। मृतक की पहचान सरोज कुमार प्रधान के तौर पर हुई है। आरोपी से तहकीकात में एक और बात पता चली है की वर्तमान में लॉक डाउन के चलते मंदिर में दर्शनार्थियों की कमी थी इस लिए मंदिर में दान / चढ़ावा नहीं मिल रहा था इससे पुजारी दुखी भी था। 
   इस प्रकार की घटना हमारे देश में समाचार पत्रों एवं न्यूज़ चैनल के माध्यम से हमेशा जानने सुनने को मिलता है। इस प्रकार की घटना हेतु लोगो को जागरूक करने की बहुत आवश्यकता है। एक ओर जहाँ विज्ञान दिन प्रतिदिन नए- नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है तो ठीक दूसरी ओर बहुत से लोग अन्धविश्वास की बेड़ियों से निकलना नहीं चाह रहे है।

Post a Comment

0 Comments