गहलोत राजस्थान में बर्बाद हो चुके शिक्षा, चिकित्सा और रोज़गार पर क्यों नहीं बोले?

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

गहलोत राजस्थान में बर्बाद हो चुके शिक्षा, चिकित्सा और रोज़गार पर क्यों नहीं बोले?

Congress meeting in jaipur
  जयपुर/राजस्थान।। कांग्रेस की केंद्र सरकार के खिलाफ 4 सितंबर को 'महंगाई पर हल्ला बोल रैली' को लेकर जयपुर में बैठक के दौरान सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि महंगाई, बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर केंद्र की भाजपा सरकार घिर गई है, राजधानी जयपुर में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा की अध्यक्षता में सोमवार को एक पांच सितारा होटल में जनता के टैक्स के पैसों से मजे करते हुए महंगाई पर रोना रोया गया। बताते चले की इस पांच सितारा होटल में कांग्रेस के उपस्थित प्रति व्यक्ति पर भोजन समेत अन्य खर्च 2000 रूपये के लगभग बताया जा रहा है। जानकारों का कहना है कि कांग्रेस की इस बैठक में राज्य के सभी मंत्री-विधायक और सांसद सहित प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी के तमाम नेता कांग्रेसी नेता मौजूद रहे। हालांकि बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री केसी वेणुगोपाल और प्रदेश प्रभारी अजय माकन का आना तय था लेकिन उनका अचानक दोनों का दौरा रद्द हो गया। 
  दरअसल महंगाई के मुद्दे पर दिल्ली में कांग्रेस केंद्र सरकार के खिलाफ 4 सितंबर को ‘महंगाई पर हल्ला बोल रैली’ करने जा रही है जिसमें राजस्थान को 50 हज़ार की भीड़ जुटाने का लक्ष्य दिया गया है। वहीं सोमवार को बैठक में डोटासरा ने मंत्री-विधायकों, बोर्ड- निगमों के चेयरमैन और जिलाध्यक्षों को दिल्ली में ज्यादा से ज्यादा भीड़ जुटाने की जिम्मेदारी दी गई है। 
कभी मोदी सरकार पर तो कभी मिडिया पर लगाते रहे आरोप 
   बैठक के बाद अशोक गहलोत ने कहा कि महंगाई, बेरोजगारी और जीएसटी जैसे मुद्दों पर बीजेपी सरकार घिर गई है जिसके बाद वह कांग्रेस पर आरोप लगा रहे हैं। गहलोत ने पीएम के काले कपड़े वाले बयान पर कहा कि प्रधानमंत्री घबरा गए हैं और डिफेंसिव दिखाई दे रहे हैं। गहलोत ने कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में राजस्थान में बर्बाद हो चुकी शिक्षा, चिकित्सा और सरकारी नौकरी में घालमेल को लेकर कुछ नहीं कहाँ। गहलोत अपनी नाकामी को छुपाने के लिए कभी मोदी सरकार पर तो कभी मिडिया पर आरोप लगाते रहे। सीएम ने कहा कि आम जनता महंगाई से त्रस्त है लेकिन बीजेपी को कांग्रेस मुक्त भारत की चिंता है। 
क्या सरकार बदल जाने से कांग्रेस का विकास रुक जाएगा 
   बताते चले की हाल ही में मानगढ़धाम पर हुई एक सभा में गहलोत ने जनजातीय वर्ग से कहा था की सरकार बदलने से विकास रुक जाता है। वही गहलोत के इस बयान पर बीटीपी का कहना है कि इससे जनता का नहीं बल्कि कांग्रेसियों का विकास रुक जाएगा। बीटीपी का कहना है की कांग्रेस ने आज तक सिर्फ सत्ता में आने के बाद खुद का भला किया है, गांवों को छोड़ों शहरों में भी शिक्षा, चिकित्सा एवं रोज़गार के मायने पूरी तरह से सरकार ने तबाह कर दिए है।   
मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों ने देश को बर्बाद कर दिया
   वहीं गहलोत ने आजादी के अमृत महोत्सव पर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि बिना नेहरू के आजादी का कोई महोत्सव नहीं मनाया जा सकता है, वहीं केंद्र सरकार को घेरते हुए आगे गहलोत ने कहा कि मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों ने देश को बर्बाद कर दिया है और बेरोजगारी और धर्म की राजनीति से जनता के मुद्दों को भटकाया जा रहा है। 
Congress meeting in jaipur
2024 में जनता दिखा देगी आईना -डोटासरा
   हाल ही अपने परिवार के कई सदस्यों को सेटिंग से आरएएस बनाने के आरोप में पूर्व घिर चुके डोटासरा ने जानकारी दी कि सभी कांग्रेसी नेताओं के साथ रैली में ज्यादा से ज्यादा भीड़ जुटाने पर चर्चा हुई, उन्होंने कहा कि कांग्रेसी कार्यकर्ता जन जागरूकता के माध्यम से लोगों को केंद्र सरकार की नीतियों और महंगाई के खिलाफ जनजागरण अभियान चलाएंगे। 
   बैठक में पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट, कैबिनेट मंत्री बी.डी. कल्ला, प्रतापसिंह खाचरियावास, एआईसीसी सचिव धीरज गुर्जर, हरियाणा राज्य पीआरओ व बांसवाड़ा-डूँगरपुर संसदीय क्षेत्र पूर्व सांसद ताराचंद भगोरा, राज्य मंत्री डॉ शंकर यादव, बांसवाड़ा विधानसभा पूर्व विधायक रमेशचंद्र पंड्या, पंचायत समिति गढ़ी प्रधान कांता भील, डूंगरपुर जिला कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश खोड़निया, डूंगरपुर जिला कांग्रेस महामंत्री एडवोकेट कपिल भट्ट सहित प्रदेश के अन्य जिलों के नेता उपस्थित रहे। 

Ad Code