अगर बदल रहा है नाखूनों का रंग तो समझें कुछ तो गड़बड़ है!

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

अगर बदल रहा है नाखूनों का रंग तो समझें कुछ तो गड़बड़ है!

    अक्सर हम अपने नाखूनों को सुंदर और आकर्षक बनाने में जुटे रहते हैं। लेकिन नाखूनों में होने वाले छोटे-मोटे बदलावों पर हमारा ध्यान नहीं जाता। जबकि नाखूनों के लक्षण हेल्थ की कहानी कहते है, नाखून पर हल्का सा नीला रंग नजर आ रहा है, तो यह शरीर को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन न मिलने का संकेत है।
     आपको फेफड़ों की समस्या हो सकती है। जब आपके नाखून लम्बे होने के बाद उंगलियों की तरफ ही मुड़ने लगें, तो इसे नेल क्लबिंग कहते हैं। कई बार शरीर में ऑक्सीजन की कमी से नाखूनों को यह शेप मिलती है। अगर नाखून ड्राई और नाजुक हैं तो यह नाखूनों पर बहुत ज्यादा केमिकल्स के प्रयोग की वजह से हो रहा है। यह कई तरह के लंग कार्डियोवस्कुलर से जुड़ी बीमारी की तरफ भी इशारा करते हैं।
     नाखून पर एक से ज्यादा सफेद धारियां किडनी से जुड़ी बीमारियों और शरीर में पोषक तत्वों की कमी की ओर इशारा करती हैं। इसी तरह अगर नाखून बहुत सॉफ्ट हैं और अंदर से खोखले नजर आते हैं, तो यह लीवर संबंधी समस्या या फिर शरीर में आयरन की कमी का संकेत माना जाता है। आयरन की कमी से नाखून टूटने भी लगते हैं।
     पीले पड़ते नाखून अगर मोटे भी हो रहे हैं, तो सतर्क हो जाएं, क्योंकि यह फंगल इंफेक्शन का लक्षण है। ऐसे में नाखून कमजोर होकर टूटने भी लगते हैं। इस स्थिति में तुरंत डॉक्टर को दिखाएं। नाखूनों में चमक भी जरूरी है। अगर नाखूनों में अगर बदल रहा है नाखूनों का रंग तो समझें कुछ गड़बड़ है!
      अक्सर हम अपने नाखूनों को सुंदर और आकर्षक बनाने में जुटे रहते हैं। लेकिन नाखूनों में होने वाले छोटे-मोटे बदलावों पर हमारा ध्यान नहीं जाता। जबकि नाखूनों के लक्षण हेल्थ की कहानी कहते है नाखून पर हल्का सा नीला रंग नजर आ रहा है, तो यह शरीर को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन न मिलने का संकेत है। आपको फेफड़ों की समस्या हो सकती है।
    जब आपके नाखून लम्बे होने के बाद उंगलियों की तरफ ही मुड़ने लगें, तो इसे नेल क्लबिंग कहते हैं। कई बार शरीर में ऑक्सीजन की कमी से नाखूनों को यह शेप मिलती है। अगर नाखून ड्राई और नाजुक हैं तो यह नाखूनों पर बहुत ज्यादा केमिकल्स के प्रयोग की वजह से हो रहा है। यह कई तरह के लंग कार्डियोवस्कुलर से जुड़ी बीमारी की तरफ भी इशारा करते हैं।
    नाखून पर एक से ज्यादा सफेद धारियां किडनी से जुड़ी बीमारियों और शरीर में पोषक तत्वों की कमी की ओर इशारा करती हैं। इसी तरह अगर नाखून बहुत सॉफ्ट हैं और अंदर से खोखले नजर आते हैं, तो यह लीवर संबंधी समस्या या फिर शरीर में आयरन की कमी का संकेत माना जाता है। आयरन की कमी से नाखून टूटने भी लगते हैं।
     पीले पड़ते नाखून अगर मोटे भी हो रहे हैं, तो सतर्क हो जाएं, क्योंकि यह फंगल इंफेक्शन का लक्षण है। ऐसे में नाखून कमजोर होकर टूटने भी लगते हैं। इस स्थिति में तुरंत डॉक्टर को दिखाएं। नाखूनों में चमक भी जरूरी है। अगर नाखूनों में चमक न हो, तो समझ लें कि आपको एनीमिया की समस्या है। इस तरह के नाखून वालों को डायबिटीज और लीवर से जुड़ी समस्याएं होने की भी संभावना होती हैं।
    काली रेखा या धब्बे नाखूनों पर नजर आ रहे हैं, तो आपको मेलेनोमा हो सकता है। इस तरह के धब्बे आमतौर पर किसी एक ही नाखून पर या पैर के नाखून में देखने को मिलते हैं। सेहतमंद शरीर का आईना होते हैं हमारे नाखून, इन पर जरूर गौर करें..
     काली रेखा या धब्बे नाखूनों पर नजर आ रहे हैं, तो आपको "मेलेनोमा" हो सकता है। इस तरह के धब्बे आमतौर पर किसी एक ही नाखून पर या पैर के नाखून में देखने को मिलते हैं। सेहतमंद शरीर का आईना होते हैं हमारे नाखून, इन पर जरूर गौर करें..

Ad Code