लिव-इन में रहने के बाद शादी से मुकरे SDM, तो अफसरों ने करवा दिया विवाह

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

लिव-इन में रहने के बाद शादी से मुकरे SDM, तो अफसरों ने करवा दिया विवाह

एसडीएम पर लिव इन पार्टनर ने शादी से मुकरने से आरोप लगाए 
यौन शोषण और दहेज मांगने का आरोप भी लगाया इसके बाद आला अधिकारियों ने दोनों पक्ष को समझाते हुए मंदिर में दोनों की शादी करा दी
    कुशीनगर।। 4 साल तक लिव-इन में रहने के बाद एसडीएम शादी करने से मुकर गए तो अधिकारियों ने मंदिर में शादी कराकर मामला को निपटारा किया।
बताया जा रहा है कि तबादला होने के बाद एसडीएम सामान लेने के लिए घर में आए थे। लेकिन शादी से इनकार करने पर एसडीएम की लिव-इन पार्टनर डीएम ऑफिस पहुंच गई और उन पर शारीरिक शोषण और दहेज मांगने का आरोप लगाया। इसके बाद आला अधिकारियों ने एसडीएम को समझाकर-बुझाकर मंदिर में शादी कराई।
    आजमगढ़ जनपद के बुढ़नपुर निवासी दिनेश कुमार की तैनाती कुशीनगर जनपद के खड्डा तहसील में एसडीएम पद पर थी। आजमगढ़ की ही रहने वाली एक महिला ने शुक्रवार को कुशीनगर जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचकर एसडीएम दिनेश कुमार पर गंभीर आरोप लगाए। उसका कहना था कि एसडीएम दिनेश मेरे साथ पिछले चार साल से लिव इन में थे। इस दौरान उन्होंने शादी का झांसा देकर मेरा शारीरिक शोषण किया और अब शादी की बात पर 50 लाख रुपये दहेज मांग रहे हैं।
तबादले के बाद सामान ले जाने कुशीनगर आए थे आरोपी एसडीएम
    महिला का आरोप सुनकर सब हैरान रह गए। जिले के सभी आला अधिकारी दिन भर बंद कमरे में उसको समझाते रहे मगर वह एसडीएम से शादी के लिए अड़ी रही। बाद में देर रात पडरौना के गायत्री मंदिर में एसडीएम ने युवती से बाकायदा शादी की और प्रशासनिक अधिकारी इस शादी के गवाह बने।
हापुड़ जिले में हुआ एसडीएम का तबादला
    वर्तमान में दिनेश कुमार का तबादला कुशीनगर से हापुड़ जिले में हो गया है और वह अपना सामान ले जाने कुशीनगर आए थे। इस मौके पर सदर एसडीएम रामकेश यादव, हाटा के एसडीएम प्रमोद तिवारी समेत कुछ अन्य अधिकारी भी उपस्थिति रहे।

Ad Code