Headline News
Loading...

Ads Area

कोरोना पीड़ित पति को छोड़ भागी दुल्हन, फैला दी कोरोना की दहशत !

हनीमून से लौटते ही पति को छोड़ भागी दुल्हन, फिर भी कोरोना की चपेट में 
पति कोरोना वायरस के लिए पॉजिटिव पाया गया तो दुल्हन हजारों लोगों की सुरक्षा को खतरे में डालते हुए न सिर्फ वह आइसोलेशन से बाहर निकली बल्कि पहले फ्लाइट से दिल्ली और फिर ट्रेन से आगरा अपने मायके जा पहुंची 
     आगरा।। एक ओर जहां कोरोना वायरस को लेकर लोग अतिरिक्त सतर्कता बरत रहे हैं, आगरा में एक ऐसा केस सामने आया है जिसने सबके होश उड़ा दिए हैं। आगरा की एक महिला इटली में पति के साथ हनीमून मनाकर बेंगलुरु वापस लौटी। वापस आने पर पति कोरोना वायरस के लिए पॉजिटिव पाया गया तो महिला को भी आइसोलेट किया गया, लेकिन अपनी और हजारों लोगों की सुरक्षा को खतरे में डालते हुए न सिर्फ वह आइसोलेशन से बाहर निकली बल्कि पहले फ्लाइट से दिल्ली और फिर ट्रेन से आगरा अपने मायके जा पहुंची। इसकी जानकारी मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग के होश उड़े हुए हैं और महिला के ट्रैवल रूट को ट्रेस किया जा रहा है। 
    महिला का पति बेंगलुरु में कोरोना के लिए पॉजिटिव पाया गया था। इसके बाद महिला को भी आइसोलेट कर दिया गया था। हालांकि, महिला 8 मार्च को बेंगलुरु से दिल्ली और फिर आगरा अपने पैरंट्स के पास चली गई। जब स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उसके घर पहुंचे तो पाया कि वह 8 सदस्यों के साथ रह रही है। इन सभी को आइसोलेट करनी की बात की गई तो उन्होंने इनकार कर दिया। इसके बाद जिला मैजिस्ट्रेट और पुलिस को बुलाना पड़ा, तब जाकर यह परिवार क्वॉरंटाइन किया जा सका। 
   आगरा के सीएमओ मुकेश कुमार वत्स ने बताया कि मेडिकल टीम जब महिला के घर पहुंची तो उसके पिता ने साफ झूठ बोल दिया कि महिला बेंगलुरु जा चुकी है। उन्होंने बताया कि मैजिस्ट्रेट के दखल के बाद महिला के घर जाया गया और सभी परिजनों को अस्पताल स्क्रीनिंग के लिए ले जाया गया। महिला को अब एसएन मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वॉर्ड में रखा गया है।
पति पॉजिटिव, फिर भी मायके पहुंची
   अस्पताल के एक अधिकारी ने बताया कि फरवरी में महिला की शादी हुई थी। वे इटली में हनीमून के लिए गए और वहां से ग्रीस और फ्रांस गए। 27 फरवरी को वे मुंबई आए और वहां से बेंगलुरु। 7 मार्च को उसके पति का कोरोना वायरस का टेस्ट पॉजिटिव निकला जिसके बाद दोनों को आइसोलेट कर दिया गया। महिला ने यह बात अपने घरवालों को बताई तो उसके पिता ने उसे आगरा बुला लिया।
बेंगलुरु से दिल्ली, फिर आगरा
   महिला 8 मार्च को बेंगलुरु से नई दिल्ली फ्लाइट से और फिर दिल्ली से आगरा ट्रेन से पहुंची। अब उसके ट्रैवल डीटेल्स खंगाले जा रहे हैं। शक है कि उससे रास्ते में मिले यात्रियों को भी इन्फेक्शन हुआ होगा। अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज ने महिला को वायरस की संदिग्ध मरीज बताया था जिसके बाद स्वास्थ्य अधिकारी हरकत में आए। एक डॉक्टर ने बताया कि महिला का सैंपल पुणे की लैब में भेजा गया है।

Post a Comment

0 Comments