Headline News
Loading...

Ads Area

भाजपा वाले ‘चमत्कारिक’ गुणों का का बखान कर पीला रहे थे गोमूत्र, लोग हो गए बीमार

कोरोना वायरस से बचने के लिए गोमूत्र पीने से एक बीमार: गोमूत्र पिलाने वाला बीजेपी कार्यकर्ता गिरफ्तार 
    कोरोना वायरस से पूरी दुनिया सहमी हुई है. लोग इस जानलेवा बीमारी से बचने की हरसंभव कोशिश कर रहे हैं, लेकिन मुसीबत की इस घड़ी में भी कुछ लोग अपनी राजनीति चमकाने का प्रयास कर रहे हैं. ऐसी ही एक हरकत बीजेपी के एक कार्यकर्ता ने की, जिससे एक व्यक्ति की जान पर बन आयी है. 
   कोरोना वायरस से बचाने के नाम पर बीजेपी के एक कार्यकर्ता ने पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में एक कार्यक्रम आ आयोजन किया था. जहां लोगों को गोमूत्र पिलायी गयी.पुलिस ने उस बीजेपी कार्यकर्ता को गिरफ्तार कर लिया है. 
    जानकारी के मुताबिक, उत्तरी कोलकाता के जोड़ासांको इलाके में नारायण चटर्जी नाम के बीजेपी कार्यकर्ता ने सोमवार को एक गोशाला में गौ पूजा कार्यक्रम का आयोजन किया था और लोगों के बीच गोमूत्र का वितरण किया था. बीजेपी कार्यकर्ता ने दावा किया था कि गोमूत्र के सेवन से कोरोना वायरस से बचा जा सकता है और पहले से इस रोग से संक्रमित लोग भी ठीक हो जायेंगे. लेकिन इस कार्यक्रम में गोमूत्र पीने से होमगार्ड का एक जवान बीमार पड़ गया था. जिसके बाद पीड़ित के पिता की शिकायत पर पुलिस ने मंगलवार देर रात उस बीजेपी कार्यकर्ता को गिरफ्तार कर लिया. 
    पुलिस के मुताबिक, 40 वर्षीय बीजेपी कार्यकर्ता नारायण चटर्जी ने दूसरों को गोमूत्र देते हुए इसके ‘चमत्कारिक’ गुणों का जिक्र किया था. गोशाला के पास तैनात होमगार्ड के एक जवान ने भी गोमूत्र का सेवन किया और मंगलवार को बीमार पड़ गया, जिस पर उसके पिता ने बीजेपी कार्यकर्ता के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करायी, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया. 
    लोगों को गोमूत्र पिलाने वाले बीजेपी कार्यकर्ता की गिरफ्तारी की बीजेपी ने निंदा की है. पश्चिम बंगाल बीजेपी प्रदेश महासचिव सायंतन बसु ने कहा की नारायण चटर्जी ने गोमूत्र का वितरण किया, लेकिन उसने लोगों को धोखे से उसे पीने को नहीं कहा. जब उसने इसका वितरण किया तो साफ तौर पर बताया कि यह गोमूत्र है, उसने किसी को इसे पीने के लिये मजबूर नहीं किया था. ऐसे में पुलिस बिना किसी कारण के उसे कैसे गिरफ्तार कर सकती है? 
    बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि गोमूत्र पीने में कोई नुकसान नहीं है और उन्हें यह स्वीकार करने में कोई पछतावा नहीं कि वह खुद इसका सेवन करते हैं. हालांकि बीजेपी सांसद लॉकेट चटर्जी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष की राय से इत्तेफाक नहीं रखतीं हैं और उन्होंने इसे ‘अवैज्ञानिक मान्यता’ करार देते हुए बंद करने की मांग की. 
    बता दें कि कोरोना वायरस का मुकाबला करने के नाम पर शनिवार को दिल्ली में अखिल भारत हिंदू महासभा ने एक ‘गोमूत्र पार्टी’का आयोजन किया था. जिसमें लगभग 200 लोग शामिल हुए और गोमूत्र पिया.

Post a Comment

0 Comments