Headline News
Loading...

Ads Area

लॉक डाउन में निकाह के लिए फर्जी तरीके से बनाया पास, लुगाई की जगह मिल गई कुटाई

    मुरैना।। मध्य प्रदेश के मुरैना शहर के दो दूल्हों ने निकाह के लिए फर्जी तरीके से पास हासिल किया | इन दो दूल्हों ने इमरजेंसी पास हासिल करने के लिए मरीज और ड्राइवर बनकर अधिकारियों से मदद मांगी थी। ई – पास हासिल करने के बाद दोनों दूल्हे अपने निकाह के लिए निजी वाहन से यूपी के आगरा के लिए रवाना हो गए। उन्होंने यहाँ अपना निकाह किया | निकाह के तीसरे दिन ही दोनों का राज खुला गया | पुलिस ने दोनों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। मुरैना कोतवाली पुलिस थाने के सब-इंस्पेक्टर रामवीर सेंथिया ने बताया कि इस मामले में वाहन मालिक और उसकी पत्नी सहित तीन अन्य पर भी केस दर्ज किया गया है। इसमें से एक की पत्नी कोरोना पॉजिटिव है | 
    कलेक्टर कार्यालय में लॉक डाउन पास के लिए दूल्हे इमरान कुरैशी और शाहरुख ने ड्राइवर एवं मरीज होने का नाटक किया था | मेडिकल कारणों से प्रशासन ने उन्हें पास दे दिया | लेकिन दोनों उस अस्पताल में ना जाते हुए जिसके लिए उन्होंने इजाजत मांगी थी, 30 अप्रैल को वे ग्वालियर के बजाये आगरा के सफर पर निकल गए। 
   आगरा में उन्होंने निकाह किया और अपनी-अपनी पत्नियों के साथ वापिस मुरैना के लिए लौट गए। बताया गया कि जिस वाहन पर दोनों दूल्हों ने सफर किया था, उसी वाहन से उसका मालिक आनंद राठौड़ भी उन्ही के पास से आगरा गया | इस वाहन से वो भी अपनी पत्नी को लेकर मुरैना आया | इस तरह से एक वाहन पर दो व्यक्तियों के पास पर आधा दर्जन लोग लौटे | वापसी में जाँच के दौरान पुलिस कर्मियों ने जब पास की पड़ताल की तो उस वाहन पर मरीज और ड्राइवर के बजाये तीन जोड़े अर्थात तीन पुरुष और उनकी तीन पत्नियां पाई गई | 
    पुलिस कर्मियों ने फ़ौरन घटना की जानकारी आलाधिकारियों को दी | सभी 6 लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया, इसमें वाहन मालिक की पत्नी कोरोना पॉजिटिव पाई गई | उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 
   शेष पांचों व्यक्तियों को क्वारेंटाइन किया गया है | पुलिस ने तीन आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है | पुलिस ने तीनों महिलाओं के बयान भी दर्ज किये है, जो अपने पतियों के साथ लॉक डाउन तोड़ते हुए मुरैना पहुंची थी |

Post a Comment

0 Comments