बहु अपने ससुर के मरने के बाद उनकी पत्नी बनकर लेती रही 20 सालो तक पेंशन

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

बहु अपने ससुर के मरने के बाद उनकी पत्नी बनकर लेती रही 20 सालो तक पेंशन

   इटावा/उत्तर प्रदेश।। दुनिया में लोग पैसों को हासिल करने के लिए किसी भी तरीके को आज़माने में हिचकिचाते नहीं है बात जब परिवार के ही पिता समान मृत ससुर की नौकरी का बैजा फ़ायदा उठाने की ही क्यों ना हो वैसे तो आपने किसी कागजों की हेराफेरी करने वालो के काफी कांड सुने होंगे। मगर इस बार मर्यादाओं की सीमाओं से आगे जाकर एक बहु ने अपने ससुर के मृत्यु होने के उपरान्त उनकी पत्नी बनकर 20 सालो तक पेंशन लेती रही। मामला इटावा जनपद के चकरनगर का है। बहू का नाम विद्यावती बताया जा रहा है। इस प्रकरण का खुलासा होने के बाद सहसों थाना पुलिस ने कल शुक्रवार को उसे गिरफ्तार कर प्रयागराज हाईकोर्ट में पेश किया।
    इस प्रकरण में तारिख पड़ने के बाद पुलिस 22 मार्च को फिर विद्यावती को हाईकोर्ट में पेश करेगी। तब तक कोर्ट के आदेश पर उसे नारी निकेतन इटावा भेजा गया है। कोर्ट ने 48 घंटे के भीतर पुलिस से जांच रिपोर्ट भी मांगी है। सहसों थानाध्यक्ष मदन लाल गुप्ता ने बताया कि सिंडौस गांव निवासी गंगाराम सिंह राजावत राजपूत रेजीमेंट की फतेहगढ़ यूनिट में सिपाही थे। वर्ष 1985 में उनकी ड्यूटी के दौरान मौत हो गई थी। गंगाराम की पत्नी शकुंलता की पति से पहले ही मौत हो चुकी थी। इनका बेटा अमोल सिंह व बहू विद्यावती परिवार के साथ गांव में रहते हैं। आरोप है कि गंगाराम की मौत के बाद कागजों में हेराफेरी करके विद्यावती गंगाराम की पत्नी शकुंतला देवी बन गई।
    बताया जा रहा है कि इसके बाद करीब 20 वर्ष से अधिक समय तक वह शकुंतला के नाम पर पेंशन ले रही थी। इसकी भनक एक फौजी को लगी, तो उसने सैनिक कल्याण बोर्ड में इसकी शिकायत किया। सैनिक कल्याण बोर्ड ने प्रयागराज हाईकोर्ट में मामले की शिकायत दर्ज कराई। कोर्ट ने इस संबंध में पिछले दिनों इटावा पुलिस को नोटिस जारी कर महिला को कोर्ट में पेश कराने का आदेश दिया था। मामला चर्चा में आने के बाद विद्यावती घर से फरार हो गई। उसकी तलाश में सहसों थाना पुलिस उसके ठिकानों पर दबिशें दे रही थी।
    सहसों पुलिस ने गुरुवार को सहसों क्षेत्र से ही उसे पकड़ लिया। शुक्रवार को पुलिस ने उसे हाईकोर्ट में पेश किया। वहां बयान दर्ज कराने के बाद कोर्ट ने मामले की सुनवाई की तारीख 22 मार्च मुकर्रर की थी। साथ ही विद्यावती को अग्रिम आदेश तक इटावा के नारी निकेतन में रखने के आदेश दिए। थाना प्रभारी ने बताया कि कोर्ट ने पुलिस को 48 घंटे के भीतर मामले की जांच रिपोर्ट पेश करने के आदेश भी दिए हैं। कोर्ट के आदेश के मुताबिक आगे की कार्रवाई की जाएगी। पुलिस आरोपी विद्यावती को इटावा के नारी निकेतन के सुपुर्द कर दिया है। वही पुलिस प्रकरण में अपनी विवेचना रिपोर्ट समय पर जमा करने की तैयारी कर रही है।

Ad Code