कोरोना के डर से किया था यह काम आठ युवकों की मौत, पांच की हालत गंभीर

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

कोरोना के डर से किया था यह काम आठ युवकों की मौत, पांच की हालत गंभीर

एक ही परिवार के आठ युवकों की मौत, पांच की हालत गंभीर
   कोरोना के डर से अपने जीवन को बचाने के लिए लोग क्या खतरा मौल ले रहे है यह उन्हें खुद भी पता नहीं है। कुछ ऐसी ही चौकाने वाली खबर छत्तीसगढ़ से है, जहां एक ही परिवार के आठ युवकों की मौत हो गयी है, जबकि पांच अन्य की हालत गंभीर है। इस घटना के पीछे की हकीकत जान कर आप हैरान रह जाएंगे जानकारी के अनुसार इन युवकों ने कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए महुआ की शराब में होम्योपैथिक कफ सिरप को मिला कर पी लिया था।
   मामला बिलासपुर के सिरगिट्टी क्षेत्र का है। जिले के सीएमओ के अनुसार होमियापैथिक दवा एल्कोहलिक है और इन दवाओं का पीना मौत का कारण हो सकता है। खबर के अनुसार इन युवकों ने मंगलवार की शाम महुआ शराब में ड्रोसेरा 30 नाम की होम्योपैथिक दवा मिला कर पी ली थी। इस दवा में 91 प्रतिशत अल्कोहल होता है। यह भी बताया जा रहा है कि गांव में यह गलतफहमी है कि इस दवा को पीने से कोरोना नहीं होगा। जिसके बाद युवकों ने इसका सेवन किया था।
    इसे पीने के बाद सभी युवक अपने घर चले गये जहां इनकी तबीयत बिगड़ गई। युवकों में से चार युवकों ने सुबह में अपने घर में ही दम तोड़ दिया। पूरी घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंच कर जांच में जुट गयी है।

Ad Code