Headline News
Loading...

Ads Area

कोरोना के बाद, क्या अब हमें टिक वायरस के लिए तैयार रहना होगा?

   कोरोना महामारी से जहां अभी पूरी दुनिया जूझ रही है। सैकड़ों देश इससे निजात पाने के लिए वैक्सीन की खोज में लगे हैं। वहीं, अब चीन से एक और खतरनाक बीमारी अपने पैर पसारने में लगी हुई है। दरअसल, मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो बताया जा रहा है कि एक कीड़ा टिक है, जिसके काटने से वहां नया वायरस फैल रहा है। जानकारी के मुताबिक, इस जानलेवा वायरस से अब तक 7 लोगों की मौत भी हो चुकी है, जबकि 60 से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हैं।
    टिक-जनित वायरस के कारण थ्रोम्बोसाइटोपेनिया सिंड्रोम (एसएफटीएस) के साथ गंभीर बुखार ने चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों की चिंता को बढ़ा दिया है। चीन की लोकल मीडिया के मुताबिक बड़ी संख्या में पूर्वी चीन के जियांग्सू और अनहुई प्रांतों में इस वायरस से लोग संक्रमित हुए हैं। यह जानलेवा वायरस टिक नाम के कीड़े के काटने की वजह से मनुष्यों में फैल रहा है। चीनी वायरस विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है और कहा कि ये वायरस मनुष्य से मनुष्य को फैल सकता है। SARS-CoV-2 के विपरीत, यह पहली बार नहीं है जब SFTS वायरस ने लोगों को संक्रमित किया है। हालिया मामलों की स्थिति केवल बीमारी के फिर से उभरने का प्रतीक है।
   थ्रोम्बोसाइटोपेनिया सिंड्रोम वायरस (एसएफटीएसवी) के साथ गंभीर बुखार इस वायरस से संबंधित है और टिक के काटने के बाद यह उससे मनुष्यों में पहुंच रहा है। वायरस की पहचान सबसे पहले चीन में शोधकर्ताओं की एक टीम ने एक दशक पहले की थी। 2009 में हुबेई और हेनान प्रांतों के ग्रामीण क्षेत्रों में पहले ऐसे कुछ मामले सामने आए थे।

Post a Comment

0 Comments