एक महिला जिसे कांवड़ यात्रा के दौरान दी जाती है पुलिस सुरक्षा

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

एक महिला जिसे कांवड़ यात्रा के दौरान दी जाती है पुलिस सुरक्षा

मुजफ्फरपुर की कृष्णा बम, नहीं है किसी सेलिब्रिटी से कम तो फिर बोलो बम बोल बम
जानिए क्यों सेलिब्रेटी बन चुकी हैं ये महिला
Shiv bhakt Krishna Bam

Shiv bhakt Krishna Bam
  ये 70 साल की महिला हर रविवार को सुल्तानगंज से जल उठाती हैं और झारखंड के देवघर के लिए रवाना हो जाती हैं। वे 108 किलोमीटर की इस मुश्किल भरे रास्ते को 15 से 18 घंटे में पूरा कर लेती हैं। इनके साथ पूरे यात्रा के दौरान पुलिस का घेरा भी मौजूद रहता है।  
Shiv bhakt Krishna Bam

Shiv bhakt Krishna Bam
   बिहार की मुजफ्फरपुर की रहने वाली कृष्णा रानी जो एक टीचर हैं, वे अब 'कृष्णा बम' के नाम से जानी जाती हैं।
Shiv bhakt Krishna Bam

Shiv bhakt Krishna Bam
- जब वे सावन के महीने में देवघर के लिए निकलती हैं तो उन्हें देखने और उनसे आर्शीवाद लेने के लिए रास्ते में हजारों लोग कतार में लगे रहते हैं।
Shiv bhakt Krishna Bam
- वे सावन के हर सोमवार को सुल्तानगंज से 'डाक बम' के रूप में देवघर पहुंचती हैं और बाबा वैद्यनाथ का जलाभिषेक करती हैं।
Shiv bhakt Krishna Bam
- बता दें कि डाक बम उसे कहा जाता है जो गंगाजल लेकर लगातार चलते या दौड़ते हुए 24 घंटे के अंदर सुल्तानगंज से देवघर 108 किलोमीटर की दूरी तय कर पहुंचता है। असल में इसको ही कहते हैं शिव में लीन हो जाना। 


हर हर महादेव 


Ad Code