पंद्रह साल से आंगनवाडी भवन नही, पंचायत से ग्राम विकास अधिकारी भी गायब, सरकार चल रही है या सर्कस

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

पंद्रह साल से आंगनवाडी भवन नही, पंचायत से ग्राम विकास अधिकारी भी गायब, सरकार चल रही है या सर्कस

विकास अधिकारी ने की जनसुनवाई, शिकायतो का लगा अंबार
जनसुनवाई में विकास अधिकारी तो पहुंचे, लेकिन बाकी जिम्मेदार मौके से मिले गायब 
ग्राम विकास अधिकारी दो महीने से पंचायत में देखने तक नहीं आए फिर तनख्वा किस बात की
Public Hearing by development officer Rishiraj Meena
  बांसवाड़ा/राजस्थान।। राज्य सरकार की और से गुरूवार को जिले की समस्त ग्रामपंचायतो मे जनसुनवाई का आयोजन किया गया। बांसवाड़ा के कुशलगढ तहसील की खेडा धरती घाटा क्षेत्र की भंवरदा, सातलिया और मोहकमपुरा मे कुशलगढ विकास अधिकारी ऋषीराज मीणा ने जनसुनवाई की सबसे पहले मीणा भंवरदा पंचायत पहुंचे, जहां सरपंच तेरसिंह भाई को छोडकर ना तो ग्राम विकास अधिकारी और ना ही एलडीसी, पंचायत सहायक, आवास सहायक नजर आया। अधिकारीयों के इस कदर गैरजिम्मेदाराना रूप से गायब रहने पर लोग कहते नज़र आये साहब सरकार चल रही है या कोई सर्कस का खेल चल रहा है। जागरूक लोगो का कहना है की शहरो से लेकर गाँवो तक सरकार ने शिक्षा व्यवस्था को पूरी तरह से बर्बाद कर के रख दिया है। आंगनवाड़ी हो या सरकारी स्कूल सरकार ने उनकी हालत शमशान घाट से भी बदतर कर के रख दी है।  इसी वजह से अब तो जनता भी कहने लगी है की क्या यह सरकार जनता को बर्बाद करने के लिए आई है। 
दो महीने से गायब है ग्राम विकास अधिकारी
   मौके पर सरपंच तेरसिंह चारेल ने बताया कि वर्तमान मे पदस्थ विडियो कोवरसिंह विगत दो माह से पंचायत मे देखने तक नही आए है। वही एलडीसी, पंचायत सहायक, आवास सहायक का पद रिक्त है। नवीन पंचायत मे क्षेत्रिय विधायक सहित बार-बार आयोजित शिविर और जनसुनवाई मे समस्या बताते है लेकिन कोई सुनवाई नही हो रही है। वही विकास अधिकारी ने ग्राम विकास अधिकारी को पाबंद करने एलडीसी सहित अन्य कार्मिक लगवाने का आश्वासन दिया। 
Public Hearing by development officer Rishiraj Meena
पंद्रह साल हो गये कहते-कहते कोई सुनने वाला नहीं 
  बता दे की मोहकमपुरा मे अधिकारी ने मौके पर पहुंचते ही तुरंत प्रभाव से पंचायत सहायक सहित उनके हाजरी रजिस्टर को मांगा, जहां मौके पर नही मिला। सरपंच के बारे मे जानकारी लेने पर बाहर होना बताया गया यहां मौके पर मौजूद आंगनवाडी भोराज, भंवरदा, सातलिया, राजापुरा की आंगनवाडी कार्यकर्ताओ ने बताया कि नौकरी करते-करते पंद्रह साल हो गये बार-बार भवन निर्माण के बारे मे अवगत कराने के बावजूद भी आज दिन तक ना तो विभाग ने और ना ही संबधित ग्राम पंचायतो ने आज दिन तक ध्यान ही नही दिया। ऐसे मे वे बच्चो का ठहराव कराने के साथ टिकाकरण सहित अन्य सरकारी योजनाओ के क्रियांवयन मे भवन नही होने से उन्हें कई समस्याओ का सामना करना पड रहा है।  वही अधिकांश कार्यकर्ताओ ने आंगनवाडी भवन नकारा होने और मरम्मत कराने का लिखित पत्र अधिकारी को मौके पर जनसुनवाई मे सौंपा। 
Public Hearing by development officer Rishiraj Meena
नरसिंह मंदिर का सीमाकंन करा समिति गठन की सर्व समाज ने लिखित मांग रखी
  वहीं मोहकमपुरा में नरसिंह मंदिर की कुल 52 बिघा जमीन पर अतिक्रमण हटाने व सर्व समाज को मंदिर की समिती में लेने का प्रार्थना पत्र भी दिया गया। विकास अधिकारी रिषी राज मीणा ने बारी-बारी से सरकार की योजनाओं को लेकर जन सुनवाई में आए लोगों को जानकारी दी। मीणा द्वारा मोहकमपुरा में उच्चीकृत सिनियर स्कूल में पोधा रोपण भी किया गया। जन सुनवाई में पंचायत समिति सदस्य, प्रतिनिधि, समाजसेवी, सादर भुरीया व ग्राम विकास अधिकारी बजरंग भाटी, कम्प्यूटर  ऑपरेटर नारायण सिंगाड, हरु भाभोर, महिला सुपरवाइजर, निर्मला मावी, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, धापु मालवी, शारदा चोहान, श्रीमती शुभद्रा चावड़ा, टीना, ललिता, काली के अलावा ग्रामीणों में कोदरसिह सोलंकी, नारसिह चावड़ा, राजेश भाभोर, ईश्वर मईडा, जगदीश चावड़ा, लालचंद राठोड़ सहित अनेक लोग इस जन सुनवाई में मोजुद रहे। 
Public Hearing by development officer
   मोहकमपुरा जन सुनवाई मे कस्बे स्थित नरसिंह मंदिर के नाम तीनो ग्राम पंचायतो मे स्थित मंदिर कृषि जोत कुल 12 खेत, 52 बीघा जमीन का सीमांकन करा सर्व समाज की समिति का गठन सहित हर साल खेतो की खुली निलामी कराने हेतू लिखित मे ज्ञापन पत्र सौंपा गया। इस दौरान नारायण सिंगाड, कोदरसिंह, राजेश भाई, धूलसिंह सहित विभिन्न गांवो से आए ग्रामीणजन मौजूद रहे। वही कस्बे मे अंबा माता मंदिर मार्ग से घरो से निकलने वाले गंदे पानी की निकासी की मांग को लेकर ग्रामीण गोपालसिंह राठौड, नाहरसिंह चावडा आदि ने बताया कि लंबे समय से पंचायत को बार-बार पक्की नाली के निर्माण की मांग कर चुके है, गंदे पानी की निकासी नही होने से मोहल्ले मे बच्चे बिमार होकर संक्रमण फैल रहा है। 
Public Hearing by development officer
  मीणा ने जन सुनवाई में आए लोगों के आवेदनों का बारी बारी निस्तारण किया जन सुनवाई में मोहकमपुरा सेक्टर में वर्षों से बने आंगनबाड़ी भवनों में शोचालयो का मुख्य मुद्दा रहा। सेक्टर की आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने जन सुनवाई में केंद्रो में बरसात में टपकते छतो से पानी व जर्जर भवनों की मरम्मत की मांग की। वहीं गांव में गंदगी को लेकर पुर्व उप सरपंच नारसिह चावड़ा ने गंदगी हटाने व बिमारिया होने के खतरे से मीणा को लिखित में अवगत कराया। 
Plantation by by development officer Rishiraj Meena
   सातलिया मे भी सरपंच जिथिंग भाई डामोर की मौजूदगी मे विकास अधिकारी ऋषीराज मीणा ने जनसुनवाई कर जनसमस्याएं सुनी। मीणा ने लोगो को घरो मे शौचालय बनाने और शौचालय का ही उपयोग करने और मौसमी बिमारियो मे घरो मे व आसपास साफ-सफाई रखने की बात कहते हुए सरकारी जनकल्याणकारी योजनाओ की विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान एलडीसी ग्राम विकास अधिकारी बजरंग भाटी, विकेश वडखिया सहित पंचायत क्षेत्र के वार्डपंच सहित कई ग्रामीण मौके पर मौजूद रहे। 
Plantation by by development officer Rishiraj Meena
विकास अधिकारी ने पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का दिया संदेश
   घाटा क्षेत्र मे जनसुनवाई करने पहुंचे कुशलगढ पंचायत समिति विकास अधिकारी ऋषीराज मीणा ने पंचायत परिसर सहित सीनीयर स्कूल परिसर मे पौधारोपण किया तथा मौजूद ग्रामीणो को पर्यावरण संरक्षण के साथ बारिश के सीजन मे अधिक से अधिक पेड लगाने का आहवान किया। इस दौरान पंचायत समिति सदस्य प्रतिनिधि सादर भाई, समाज सेवक नारायण सिंगाड, ग्राम विकास अधिकारी बजरंग सिंह भाटी, हरिसिंह, तोल सिंह, नाहर सिंह, गोपाल सिंह आदि ग्रामीण मौजूद रहे। 
   

Ad Code