Headline News
Loading...

Ads Area

यज्ञोपवीत ब्राह्मणों का मुख्य संस्कार है - आई वी त्रिवेदी

30 बटुकों ने द्विजत्व प्राप्त किया
  बांसवाड़ा/राजस्थान।। यज्ञोपवीत ब्राह्मणों के संस्कारों में मुख्य संस्कार है इसको धारण करना और इसका पालन करना प्रत्येक विप्र का कर्तव्य और अधिकार है। उक्त विचार प्रस्तुत किए जीजीटीयू कुलपति और कार्यक्रम के मुख्य अतिथि आई वी त्रिवेदी ने विप्र फाउंडेशन बांसवाड़ा द्वारा बंसत पंचमी 26 जनवरी के उपलक्ष में द्वितीय विप्र महाकुंभ के अंतर्गत द्वितीय सामूहिक विप्र यज्ञोपवीत एवम प्रथम अखिल भारतीय सर्व ब्राह्मण युवक युवती परिचय सम्मेलन का आयोजन के अवसर पर बताया। उक्त कार्यक्रम मंदारेश्वर महादेव मंदिर परिसर पर किया गया। कार्यक्रम में कुल 26 बटुकों ने आचार्य हर्षवर्धन व्यास के आचार्यत्व और पंडित प्रदीप भट्ट,पंडित राकेश जोशी, पंडित राकेश शुक्ला के सह आचार्यत्व में शुभ मुहूर्त में यज्ञोपवीत धारण किए। 
Yagyopawit
  यज्ञोपवीत के पश्चात हुए परिचय सम्मेलन में संपूर्ण भारतवर्ष से आए हुए आवेदकों ने अपने बारे में मंच से बताया। कुल 300 से अधिक पंजीकृत ने अपना बायोडाटा बताया। इस अवसर पर आयोजित मंचीय कार्यक्रम में जीजीटीयू उपकुलपति आई वी त्रिवेदी मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ समाज सेवी एडवोकेट लक्ष्मीकांत त्रिवेदी ने की। विशिष्ठ अतिथि विप्र महाकुंभ के संयोजक जयप्रकाश पंड्या, प्रदेश सरक्षक पूर्व विधायक रमेश पंड्या, महंत मंदारेश्वर और मार्गदर्शक प्रेमकांत जोशी, प्रदेश उपाध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद द्विवेदी साथ ही परिचय सम्मेलन संयोजक दिनेश चंद्र भट्ट, जील हॉस्पिटल सागवाड़ा के निदेशक भूपेंद्र भट्ट, लियो संस्थान के निदेशक मनीष त्रिवेदी, विप्र फाउंडेशन महिला प्रकोष्ठ जिला अध्यक्ष डा.कीर्ति आचार्य थे।
Yagyopawit 
  इस अवसर पर युवा प्रकोष्ठ प्रदेश संगठन सचिव हेमेंद्र पंड्या, विप्र वाहिनी प्रदेश महामंत्री विकास भट्ट, युवा प्रकोष्ठ जिला अध्यक्ष विनय भट्ट, पुष्पेंद्र पंड्या, भूदेव भट्ट, अरविंद चौबीसा, मुख्य रूप से उपस्थित थे। अतिथियों का स्वागत विप्र महाकुंभ सह संयोजक ललित कुमार जोशी, जिला ग्रामीण महामंत्री नवनीत त्रिवेदी, ज़िला महामंत्री जनक भट्ट, पंजीयन प्रभारी कैलाश जोशी, जिला प्रवक्ता अमित शुक्ला, चंद्रशेखर शर्मा कुशलगढ़, बांसवाड़ा तहसील अध्यक्ष सुभाष चन्द्र पंड्या, नगर अध्यक्ष ईश्वर दास वैष्णव, नगर उपाध्यक्ष मनोहर जोशी, जुगल कुमार जोशी, संरक्षक मंडल सदस्य रामशंकर जोशी, संरक्षक मंडल सदस्य बालकृष्ण त्रिवेदी ने किया। 
 जील हॉस्पिटल सागवाड़ा के निदेशक भूपेंद्र भट्ट सहित सभी वक्ताओं ने अपने उद्गार इस अवसर पर बताए। विप्र महाकुंभ में विप्र वाहिनी, युवा प्रकोष्ठ, महिला प्रकोष्ठ, वीसीसीआइ प्रकोष्ठ सहित प्रत्येक इकाई से लेकर प्रदेश स्तर के पदाधिकारियों का सहयोग प्राप्त हुआ। अल्पाहार, चाय, भोजन की संपूर्ण व्यवस्था कोषाध्यक्ष के के शुक्ला के सानिध्य में संपन्न हुई। 
महिला खेलकूद के पुरस्कार वितरित
  इस पावन अवसर पर महिला प्रकोष्ठ द्वारा पूर्व में आयोजित भजन प्रतियोगिता और खेलकूद प्रतियोगिता में विजेता और उपविजेताओं को मंच से पुरस्कार भी प्रदान किए गए। महिला प्रतियोगिता पुरुस्कार वितरण के कार्यक्रम के अवसर पर प्रतिनिधि ही उपस्थित थे, समस्त अतिथि महिला सम्मान में मंच के सामने बैठ महिला प्रकोष्ठ को उत्साहित किया महिला जिला अध्यक्ष डा. कीर्ति आचार्य में नेतृत्व में आयोजित उक्त महिला सभा का संचालन बरखा जोशी ने किया। अतिथि कृष्ण गृहस्थी, भारती त्रिवेदी, पवित्र जोशी थी वही स्वागत सपना व्यास आभार योगेश्वरी जोशी और संध्या पंड्या ने किया।
Yagyopawit
  मुख्य समारोह के शुभारंभ से पूर्व गणतंत्र दिवस का शुभ अवसर होने से राष्ट्रीय ध्वज जयप्रकाश पंड्या द्वारा लहरा जन मन गायन के पश्चात मुख्य आचार्य हर्षवर्धन पंड्या और सह आचार्य प्रदीप भट्ट,राकेश जोशी,राकेश शुक्ला द्वारा यज्ञोपवीत संस्कार का शुभारंभ किया गया।
  कार्यक्रम स्वागत शब्दो से विप्र फाउंडेशन जिला अध्यक्ष योगेश जोशी ने किया। संचालन जिला महामंत्री जनक भट्ट और जिला प्रवक्ता अमित शुक्ला ने संयुक्त रूप से किया और आभार विप्र महाकुंभ सह संयोजक ललित कुमार जोशी ने माना। अंत में शांतिपाठ के द्वारा कार्यक्रम का समापन जिला मंत्री कुशल पंड्या ने किया गया।

Post a Comment

0 Comments