उप्र विधानसभा के सामने शिक्षकों पर लाठीचार्ज, एक की मौत

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

उप्र विधानसभा के सामने शिक्षकों पर लाठीचार्ज, एक की मौत

    उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बुधवार को पुरानी पेंशन बहाली को लेकर विधानसभा के सामने प्रदर्शन कर रहे शिक्षकों पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया, जिसमें एक प्रवक्ता की मौत हो गई जबकि कई अन्य घायल हो गए.
      मृतक शिक्षक डॉ. रामाशीष कुशीनगर माध्यमिक विद्यालय में कार्यरत थे. वर्ष 2005 के बाद नियुक्त हुए शिक्षकों और प्रवक्ताओं ने पेंशन बहाली को लेकर एक ऑल टीचर्स एंप्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन (अटेवा) नाम का संघ बनाया. इसी के तहत बुधवार को वे विधानसभा घेरने पहुंचे थे.
     शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे शिक्षक जब विधानसभा की तरफ बढ़े तो पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की. इसी दौरान उनकी पुलिस से झड़प हो गई, जिसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया. इस लाठीचार्ज में रामाशीष को सर में चोट आई और वे वहीं गिर गए. इसके बाद उन्हें सिविल हॉस्पिटल ले जाया गया जहां डक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.
    इधर, पेंशन बचाओ मंच के प्रदेश अध्यक्ष विजय कुमार ने बताया कि प्रदर्शन के दौरान ही रामाशीष को चोट लग गई. उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई.
    उन्होंने बताया, "हजारों शिक्षक अपनी मांग को लेकर लखनऊ में जुटे थे. पहले सरकारी नौकरी करने वाले को अवकाश प्राप्त हो जाने के बाद जीवन प्रयंत पेंशन मिलती थी, जिससे उसका गुजारा हो जाता था. अब एक अप्रैल 2005 के बाद से नियुक्त कर्मचारियों को कोई पेंशन नहीं मिलेगी." उन्होंने कहा, "इस मामले को लेकर हमारी मुलाकात मुख्यमंत्री से भी हो चुकी है, लेकिन कुछ हुआ नहीं."

Ad Code