कश्मीरी पंडितों ने फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा करने की मांग की

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

कश्मीरी पंडितों ने फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा करने की मांग की

    जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज करने की मांग की.
     कश्मीरी पंडितों के विभिन्न संगठनों ने उनके कथित ‘‘राष्ट्र-विरोधी बयानों’’ के खिलाफ जम्मू में मंगलवार को प्रदर्शन किया.
    ऑल पार्टिज माइग्रेंट्स कोऑर्डिनेशन कमेटी (एपीएमसीसी) के अध्यक्ष विनोद पंडित के नेतृत्व में प्रदर्शनकारियों ने कहा कि ‘‘राष्ट्र-विरोधी टिप्पणी करना उनकी आदत में शुमार है.’’
    उन्होंने अब्दुल्ला की हालिया टिप्पणी पर उनके खिलाफ देश-द्रोह का मामला दर्ज करने की मांग की. अब्दुल्ला ने अपने बयान में कहा था कि वह ‘‘अलगाववादियों के साथ हैं.’’ एपीएमसीसी के राष्ट्रीय प्रवक्ता किंग भारती ने कहा, ‘‘कश्मीरी अलगाववादियों के पक्ष में फारूक अब्दुल्ला के बयान को लेकर उनके खिलाफ देश-द्रोह का मामला दर्ज करने की हम मांग करते हैं.’’
    हजरतबल में अपने पिता और नेकां के संस्थापक शेख अब्दुल्ला की 111वीं जयंती के अवसर पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए फारूक ने हुर्रियत के नेताओं से दूसरे रास्ते पर नहीं चलने को कहते हुए बोला ‘‘संयुक्त रहें और हम भी आपके साथ खड़े हैं.’’
    उन्होंने कहा था, ‘‘हमें अपना दुश्मन ना मानें, हम नहीं हैं. लेकिन हम गलत रास्ते पर चलने को तैयार नहीं हैं. इसलिए मैं इस पाक जगह से आपसे कह रहा हूं कि आप (हुर्रियत) आगे बढ़ें, और जबतक आपके पांव सही रास्ते पर हैं और आप इस देश को सही तरीके से आगे बढ़ा रहे हैं हम आपके साथ हैं.’’
     इस बीच प्रदेश भाजपा ने आरोप लगाया कि हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद घाटी में अशांति उत्पन्न करने वालों को नेकां समर्थन दे रहा है.

Ad Code