Headline News
Loading...

Ads Area

एक और बाबा पर महिला ने लगाया यौन शोषण का आरोप

Image result for baba jyoti giriबाबा “ज्योतिगिरी” या बलात्कारी बाबा ?, 
पीड़िता का दावा 600 घँटे की पोर्न फ़िल्म बनी है, 
बाबा की ज्योतिगिरी भूमिगत हुए 
   नई दिल्ली।। हरियाणा के एक और बाबा के खिलाफ नाबालिग लड़कियों और महिलाओं के साथ यौन शोषण की शिकायतें दर्ज हुई हैं। यौन शोषण का वीडियो वायरल होने के बाद बाबा फरार हो गया है। हरियाणा के गुरुग्राम में बहेडा कला गांव का बाबा ज्योतिगिरी महाराज कई महिलाओं के साथ यौन शोषण में लिप्त पाया गया, इसके बाद बाबा के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है। 
    बाबा ज्योतिगिरी महाराज के तमाम अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए जिसकी वजह से पुलिस ने शिकायत दर्ज की और अब गुरुग्राम पुलिस की साइबर सेल वीडियो की जांच कर रही है। इस मामले में वीडियो फैलाने वालों के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की गई है। आरोपी ज्योतिगिरी महाराज के बारे में कहा जाता है कि वह पहले आईएएस था और उसके बाद बैरागी बन गया। हरियाणा कैडर से आईएएस चुने गए इस अफसर ने 1998 में हरिद्वार में स्वामी परमेश्वर गिरी से संन्यास दीक्षा ग्रहण कर ली। हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हुई है। देशभर के कई जगहों पर इस बाबा के आश्रम हैं। हरियाणा में यह बाबा गोशाला भी चलाता है। 
     उज्जैन, काशी, गुरुग्राम और हरिद्वार में भी इस बाबा के आश्रम हैं, और उनसे यौन शोषण के मामले सामने आने के बाद लोगों को पता चला तो काफी लोग थाने में जाकर इस बाबा के खिलाफ एफआईआर करने की मांग करने लगे और आश्रम को भी बंद करने की मांग पर अड़ गए. हालांकि तनाव को देखते हुए आश्रम के आसपास पुलिस की चौकसी बढ़ा दी गई है.एक महिला ने आरोप लगाया है, ‘ज्योतिगिरी महाराज ने उससे जबरदस्ती संबंध बनाए।’ साथ ही महिला ने यह भी आरोप लगाया है, ‘ज्योतिगिरी महाराज सैंकड़ों नाबालिग बच्चियों के साथ यौन शोषण कर चुका है। महिला ने सोशल मीडिया पर अपने मैसेज में लिखा है कि वह, कम से कम दस बारह लड़कियां बाबा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने को तैयार हैं लेकिन उनकी जान को खतरा है, पीड़िता का दावा है कि ज्योति गिरी महाराज ने मुझसे जबरदस्ती संबंध बनाए । 
    महिला के द्वारा यह भी दावा किया है, कि उसके पास ज्योतिगिरी महाराज के ऐसे 600 वीडियो हैं। महिला के मुताबिक इन विडियो में वह नाबालिग लड़कियों का यौन शोषण करते हुए नजर आ रहे हैं।’ यह दावा है उस पीड़ित महिला का जिसने गुरुग्राम के प्रख्यात बाबा ज्योति गिरी महाराज पर यौन शोषण के गंभीर आरोप मढ़े हैं। महिला के आरोपों और इसपर पुलिसिया कार्रवाई की हम आगे चर्चा करेंगे लेकिन सबसे पहले आपको इस बाबा की शख्सियत से परिचित करा दें। 
कई नेताओं के हैं करीबी: 
    स्वयं-भू संत ज्योति गिरी महाराज का गुरुग्राम के बहोड़ा कलां गांव में आश्रम है। अफवाहों का बाजार इस बात से भी हमेशा गर्म रहता है कि ज्योति गिरी महाराज आईएएस की नौकरी छोड़ बाबा बन गए। यह बाबा पिछले बीस साल से इसी गांव में रहते हैं। हरियाणा की मौजूदा खट्टर सरकार के कई कैबिनेट मंत्रियों से लेकर इनेलो और कांग्रेस के कई नेता की भी तस्वीरें बाबा के साथ सोशल मीडिया पर मौजूद हैं। 
    इतना ही नहीं गुरुग्राम के सांसद राव इंद्रजीत से लेकर भारतीय जनता पार्टी के नेता संतोष यादव, राव नरबीर सिंह जैसे बड़े सफेदपोश बाबा के आश्रम में आशीर्वाद की अभिलाषा लिए आते हैं। यूट्यूब पर ऐसे कई सारे वीडियो भी मौजूद हैं जिनमें बाबा राम मंदिर के मुद्दे पर बोलते हुए नजर आते हैं। दक्षिण हरियाणा में बाबा की तीन गोशलाएं हैं। सिर्फ हरियाणा ही नहीं बल्कि उज्जैन, काशी, और हरिद्वार जैसे शहरों में भी ज्योतिगिरी महाराज के कई आश्रम हैं। 
     आम आदमी पार्टी के हरियाणा ईकाई के मीडिया प्रभारी सुधीर यादव ने वीडियो को देखने के बाद पुलिस के सामने शिकायत की है जिसके बाद साइबर सेल इस मामले की तफ्तीश कर रही है। हालांकि अभी तक किसी भी पीड़ित लड़की ने पुलिस के सामने आकर बयान नहीं दिया है या फिर केस दर्ज नहीं कराया है। कहा जा रहा है कि गांव के एक शख्स ने गुरुग्राम पुलिस कमिश्नर और चंडीगढ़ हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को ज्योति गिरी महाराज के खिलाफ शिकायत पत्र भी भेजा है। 
     गांव के कई लोग इस मामले को संदेहास्पद मान रहे हैं। लेकिन अभी तक किसी भी पीड़िता के सामने नहीं आने की वजह से मामले में ऊहापोह की स्थिति बनी हुई है। इस मामले को लेकर गांव में तनाव ना बढ़े इसके लिए पुलिस ने ज्योति गिरी महाराज के आश्रम के पास पुलिस बल की तैनाती की है। 
30 समर्थकों ने भी आश्रम छोड़ा 
    जिला पार्षद सतीश चौहान ने बताया कि महंत के गायब होते ही आश्रम में कई वर्षों से रह रहे उनके 30 से अधिक समर्थक छोड़कर चले गए। गांववालों द्वारा उनको काफी रोकने का प्रयास किया गया और उनको आश्वस्त किया गया। उनके साथ कुछ गलत नहीं होगा लेकिन वे नहीं रुके। 
महंत का रुतबा 
    ग्रामीणों का कहना है कि महंत का बड़ा रुतबा है और उनके आश्रम में बड़े-बड़े मंत्री और अधिकारी आते हैं, उन पर कार्रवाई होना मुश्किल है। हालांकि, महंत के खिलाफ दो शिकायतें मिलने के बावजूद अब तक पुलिस मामला दर्ज करने में आनाकानी कर रही है। गांव के लोग मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग कर रहे हैं। 
    धर पीड़ित महिला का वीडियो वायरल करने वालों के खिलाफ भी पुलिस ने केस दर्ज किया है क्योंकि ऐसा करने वालों ने महिला की पहचान को उजागर किया है। कहा जा रहा है कि वीडियो वायरल होने के बाद से बाबा ज्योति गिरी महाराज फरार हो गए हैं। बहरहाल अब पुलिस इस मामले की पूरी तफ्तीश में जुटी है।

Post a Comment

0 Comments