लालपरी हो या इंग्लिश, अगर मुंह से लगानी है तो देना होगा 10 रुपये गुंडा टैक्स

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

लालपरी हो या इंग्लिश, अगर मुंह से लगानी है तो देना होगा 10 रुपये गुंडा टैक्स

    अमरोहा।। लालपरी यानी दारू देसी हो या इंग्लिश, यहां पर हर बोतल पर 10 रूपये गुंडा टेक्स के रूप में देना ही पड़ेगा। या तो ठेके पर 10 रूपये अतिरिक्त दीजिए नहीं तो बिना पिए ही रहिए। अगर मुंह से लगानी ही है तो 10 रूपये गुंडा टेक्स देना ही होगा। जिले भर में संचालित देसी दारू से लेकर इंग्लिश व बीयर की हर बोतल पर दस रुपये अतिरिक्त वसूले जा रहे हैं। इससे लगभग डेढ़ करोड़ रुपये प्रतिमाह शराब माफिया व अफसरों के गठजोड़ में बंट रहे हैं। एमआरपी से अधिक रुपये न देने पर ग्राहक के साथ गाली-गलौज व मारपीट भी होती है। जबकि दो माह पहले ओवर रेटिग के आरोप में धनौरा के आबकारी निरीक्षक समेत जिला आबकारी अधिकारी निलंबित हो चुके हैं।
ग्राहक बोले, खुलेआम ले रहे दस रुपये अतिरिक्त
   हसनपुर कोतवाली के बगल में अंग्रेजी शराब के ठेके पर खड़े ग्राहक की माने तो एक्सट्रा बेगपाइपर का क्वार्टर लिया है, सौ रुपये एमआरपी है, 110 रुपये लिए हैं। बताया कि अधिक रुपये न देने पर अभद्रता करते हैं। दुकान पर मौजूद सेल्समैन ने बताया कि दुकान पूर्व सांसद की है, उनके आदेश पर ही दस रुपये अधिक ले रहे हैं। इसी तरह झकड़ी अड्डे पर स्थित देसी शराब के ठेके पर 75 का पौवा 80 रुपये में दिया जा रहा है। देशी ठेके पर भी यही हाल है। अमरोहा के बिजनौर रोड स्थित इंगलिश ठेके पर 140 रुपये एमआरपी वाली रम का क्वार्टर 150 रुपये में दिया जा रहा है। इसी तरह अतरासी रोड स्थित इंगलिश ठेके पर प्रति बोतल दस रुपये व इसके सामने देसी ठेके पर पांच रुपये प्रति पौव्वा ज्यादा लिया जा रहा है। इंगलिश शराब की दुकान संचालक गिरीश त्यागी कहते हैं कि छोटे दुकानदारों के यहां ओवर रेटिग नहीं होती, इस क्षेत्र में सक्रिय शराब माफिया की दुकानों पर खुलेआम ओवररेटिग होती है।

Ad Code