पत्नी से था नाराज पूरे घर को किया आग के हवाले

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

पत्नी से था नाराज पूरे घर को किया आग के हवाले

   कानपुर।। थाना जूही के मिलिट्री कैंप चौकी क्षेत्र में एक सरफिरे पति ने पत्नी के घर वापस ना आने से नाराज होकर पत्नी के पूरे घर के सदस्यों पर पेट्रोल डालकर उन्‍हें आग के हवाले कर दिया। घटना में घर के सात सदस्य बुरी तरह आग में झुलस गए।
   बताते चलें थाना जूही क्षेत्र में बेबी के हाते की रहने वाली मनीषा ने चार वर्ष पूर्व हरदोई के रहने वाले मुकेश से लव मैरिज की थी। जिसके कुछ ही समय बाद पति-पत्नी में आपसी अनबन रहने लगी और मुकेश आए दिन अपनी पत्नी मनीषा को शारीरिक व मानसिक रूप से परेशान करने लगा। जिसके चलते लॉकडाउन के बाद मनीषा अपने मां-बाप के घर रहने चली आई थी। इसके बाद कई बार मुकेश ने अपने रिश्ते दारो से मनीषा के घर वालों को फोन करा कर पुनः दोबारा लड़ाई झगड़ा ना करें की बात कह कर मनीषा को अपने घर वापस ले गया था। पर घर ले जाने के दूसरे दिन ही मनीषा के साथ वह मारपीट करने लगा। जिससे नाराज होकर मनीषा फिर से अपने घर वापस चली आई पुनः बेटी के साथ मारपीट की घटना को देखकर परिजनों ने घटना की शिकायत जूही थाने में करनी चाहिए पर कई दिन से पुलिस वालों द्वारा बात को टाला मटोली की जाती रही थी । पीड़ित की माने तो घटना वाली रात पीड़ित हीरालाल अपने दामाद मुकेश के खिलाफ शिकायत करने जूही थाने गया था । पर किसी कारणवश बिना शिकायत सुने उसे वहां से वापस भेज दिया गया और वह जूही थाने से लौटकर अपने घर पर सभी परिजनों के साथ जमीन कि फर्श पर सो रहा था।
     रात चार बजे उसे फर्श पर कुछ गीला गीला महसूस हुआ तो उसकी अचानक नींद टूटी और जब तक वह कुछ समझ पाता तब तक बाहर से उसका दामाद चिल्ला रहा था और अचानक देखते ही देखते कमरे में आग लग गई इलाकाई लोगों की मदद से वह मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को उर्सुला हॉस्पिटल में भर्ती कराया है बता दें परिवार में हीरालाल व उसकी पत्नी शिव कुमारी और एक बेटा मनीष व 4 बेटी अंदर सो रहे थे वे सभी आग में बुरी तरह झुलस गए हैं एक बेटी राधा को छोड़कर सभी के चेहरे के साथ पूरा शरीर जला हुआ है और सभी की हालत नाजुक बनी हुई है घटना की सूचना पाकर मौके पर क्षेत्र अधिकारी बाबू पुरवा पुलिस अधीक्षक दक्षिण दीपक भूकर के साथ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक व मजिस्ट्रेट ने मौके पर पहुंचकर घटना की जांच पड़ताल कर अपराधी को पकड़ने के लिए चार टीमों का गठन किया गया है पुलिस अधीक्षक दक्षिण दीपक भूकर का कहना है जल्द ही अपराधी की गिरफ्तारी कर उचित कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
     घटना की सूचना पर पहुंचे क्षेत्रीय विधायक महेश त्रिवेदी ने परिजनों से घटना की जानकारी एकत्रित की और पत्रकारों से वार्ता भी की. पत्रकारों से वार्ता के दौरान विधायक महेश त्रिवेदी ने बताया कि यह बहुत ही निंदनीय घटना है जो भी व्यक्ति इस में दोषी पाए जाएंगे उनके खिलाफ शासन व प्रशासन की ओर से कठोर से कठोर कार्रवाई कराई जाएगी।

Ad Code