जिहादी ने सरेआम एक हिन्दू की हत्या कर कहा "ए नरेन्द्र मोदी सुन ले ये छुरा तेरी गर्दन तक भी जरूर पहुंचेगा"

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

जिहादी ने सरेआम एक हिन्दू की हत्या कर कहा "ए नरेन्द्र मोदी सुन ले ये छुरा तेरी गर्दन तक भी जरूर पहुंचेगा"

कोई इतनी बेरहमी से हत्या कर के कह रहा है कि दर्दनाक क़त्ल हमने किया है और प्रधानमंत्री के गले तक पहुंचेगा छुरा 

Jihadi Kill Kanhiyalal in Udaipur
   
   उदयपुर/राजस्थान।। अक्सर देखा गया है कि जिहादी आंतकवादियो द्वारा हिन्दुओ की सरेआम हत्या होने पर हिन्दू सिर्फ रैलीया आयोजित कर इतिश्री कर देते है, लेकिन वही मुस्लीम आंतकवादी सरेआम हिन्दुओ की हत्याओ को अंजाम दिये जा रहे है। राजस्थान के उदयपुर में कन्हैया लाल साहू (टेलर) की हत्या  करने वाले आरोपियों रियाज मोहम्मद अत्तारी और उसके साथी गौस अहमद को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। इस पूरे मामले की जांच नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) कर रही है. 
   इस पूरे मामले में अब तक जो जानकारियां सामने आई हैं उससे यह साफ हो गया कि कन्हैया की हत्या की योजना एक या दो दिन पहले नहीं बनाई गई थी। नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट के बाद से ही उसे धमकियां मिल रही थीं। कन्हैयालाल को आशंका थी कि उसकी हत्या की जा सकती है। इसलिए उसने 15 जून को धानमंडी थाने में शिकायत दी थी। वही पुलिस का कहना है, दोनों पक्षों में सुलह हो गई थी। 
Kanhiyalal killed by Jihadi Terrorist in Udaipur
कौन था कन्हैयालाल?
    कन्हैयालाल उदयपुर के गोवर्धन विलास इलाके का रहने वाला था. वह पेशे से एक टेलर था। भूतमहल के पास 'सुप्रीम टेलर्स' नाम से उसकी दुकान थी। BJP से सस्पेंड हुई नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पोस्ट करने की वजह से कन्हैयालाल पहली बार सुर्खियों में आया था।
कब क्या-क्या हुआ?
11 जून: कन्हैयालाल के पड़ोसी नाजिम ने कन्हैयालाल के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था. इसके बाद पुलिस ने कन्हैयालाल को गिरफ्तार किया था।
15 जून: कन्हैयालाल को 15 जून को कोर्ट से जमानत मिली थी।
15 जून: कोर्ट से जमानत मिलने के बाद कन्हैयालाल ने पुलिस को पत्र लिखकर अपनी हत्या की आशंका जताई थी. इसके साथ ही कहा था की उसे धमकी भरे फोन भी आ रहे थे।
   मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कन्हैयालाल ने पुलिस को दिए शिकायत पत्र में कहा था कि मोबाइल पर गेम खेलने के दौरान उसके बेटे ने सोशल मीडिया पर वह पोस्ट किया था। दो दिन बाद उसे जब इसकी जानकारी मिली तो उसने वह पोस्ट डिलीट कर दी थी।
15 जून: मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने कन्हैयालाल की शिकायत के बाद दोनों पक्षों में समझौता करवा दिया था. समझौते के आवेदन पर कन्हैयालाल और दूसरे पक्ष के लोगों के हस्ताक्षर भी लिए गए थे।
17 जून: कहा जा रहा है कि हत्या के आरोपी रियाज मोहम्मद ने इसी दिन धमकी भरा वीडियो बनाया था और दावा किया था कि वो वारदात का वीडियो भी शेयर करेगा।
28 जून: कन्हैयालाल ने मंगलवार, 28 जून को 6 दिन बाद अपनी दुकान खोली थी. दो युवक उसकी दुकान पर कपड़े सिलवाने के बहाने से आए. आरोपियों ने कन्हैया कुमार पर हमला कर दिया और उनकी हत्या कर दी।
दोनों आरोपी गिरफ्तार
   कन्हैयालाल की हत्या के आरोप में पुलिस ने मोहम्मद गौस और रियाज को गिरफ्तार किया है। दोनों को राजसमंद के भीम इलाके से गिरफ्तार किया गया है। जानकारी के मुताबिक आरोपी उदयपुर के सूरजपोल इलाके के रहने वाले हैं।
Kanhiyalal killed by Jihadi Terrorist in Udaipur
     
   मौके पर हिन्दू संगठन के कुछ आक्रोशित लोगो का कहना था कि जिस देश का प्रथम नागरिक प्रधानमंत्री मोदी भी जिहादी मुस्लिम आतंकवादीयो के निशाने पर हो उस देश से ऐसी जिहादी कौम को पूरी तरह से देश से हमेशा के लिए बाहर कर दिया जाना चाहिए।
Kanhiyalal killed by Jihadi Terrorist in Udaipur

कैसे हुई विवाद की शुरुआत
    इस विवाद की शुरुआत भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नुपूर शर्मा की डीपी से हुई थी, जो कन्हैया के सोशल मीडिया अकाउंट पर लगी थी। इस डीपी के लगने के बाद से ही उसे जान से मारने की धमकियां मिलने लगीं। 11 जून को धानमंडी थाने से कन्हैया के पास फोन आया कि उसके खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है। शिकायत कन्हैया के पड़ोसी नाजिम ने दर्ज कराई थी। मौके पर नाजिम ने बताया कि उन्होंने समुदाय के दबाव में यह रिपोर्ट दर्ज कराई है क्योंकि मुझे मालूम है कि आप मोबाइल नहीं चला पाते। मौके पर पुलिस ने दोनों पक्षों में समझौता करा दिया।
   थाने में दर्ज शिकायत में कन्हैया ने बताया है कि समझौते के बाद भी पड़ोसी नाजिम के अलावा पांच लोग कन्हैया की दुकान की रेकी करने लगे। वो धमकी दे रहे थे। कन्हैया को आशंका थी कि अगर उसने दुकान खोली तो हत्या हो सकती है। धमकियों से सहमे कन्हैया ने 15 जून को धानमंडी थाने में शिकायत दर्ज कराई थी।
    उस रिपोर्ट में कन्हैया ने बताया था कि करीब 6 दिन पहले बच्चा मोबाइल पर गेम खेल रहा था, इस दौरान उससे गलती से पोस्ट हो गई थी। पोस्ट और डीपी को लगाने के बाद मेरी दुकान पर दो लोग आए। उन्होंने कहा, तुमने मोबाइल से आपत्तिजनक पोस्ट डाली है तो मैंने कहा, मुझे मोबाइल चलाना नहीं आता। इसके बाद उन्होंने मेरा मोबाइल मांगा और वो पोस्ट डिलीट कर दी और दोबारा ऐसा न करने की हिदायत दी थी।
भाजपा ने उदयपुर बन्द का किया ऐलान
    रवीन्द्र श्रीमाली, जिलाध्यक्ष, डॉ. किरण जैन, गजपाल सिंह राठौड़, मनोज मेघवाल (जिला महामंत्री) भाजपा शहर जिला उदयपुर द्वारा संयुक्त बयान जारी कर कहा गया है कि दिनांक 29 जून को कन्हैया लाल साहू की नृशंस हत्या के विरोध में उदयपुर पूरी तरह से बंद करवाया जाएगा एवं सभी व्यापारी बंधुओं से निवेदन है कि अपने-अपने प्रतिष्ठान इस नृशंस हत्या के विरोध में बंद रखें।

Innocent Hindu killed by jihadi muslim in udaipur
   हिन्दु संगठनो का कहना है कि कांग्रेस राज में राजस्थान मे कई हिन्दू, मुस्लिम जिहादीयो द्वारा कई बार बैमोत मारे गये है। 
Kanhiyalal killed by Jihadi Terrorist in Udaipur
Kanhiyalal killed by Jihadi Terrorist in Udaipur
   कुछ लोगो का कहना था कि असुरक्षा को लेकर कन्हैयालाल द्वारा पुलिस मे शिकायत दर्ज करवा दी गई थी लेकिन पुलिस ने समय रहते उसको सुरक्षा नही दी जिसका खामियाजा कन्हैया को अपनी जान देकर चुकाना पड़ा।
    रेली मे आक्रोशित लोगो का कहना था कि कांग्रेस के राज मे हिन्दू पूरी तरह से असुरक्षित है, उनका कब कोई मुस्लिम जिहादी आकर कत्ल कर दे कुछ कहां नहीं जा सकता। 
Innocent Hindu killed by jihadi muslim in udaipur
  वही घटना के उपरान्त पुलिस ने मुस्तैदी दिखाते हुए हत्यारो को डिटेन कर गिरफ्तार कर लिया है। वही घटना से आक्रोशित लोगो का कहना है कि इन आतंकवादियो को सीधे गोली मार दी जाएं।

सीएम गहलोत ने जताई अंतरराष्ट्रीय साजिश की आशंका
   उदयपुर हत्याकांड को लेकर सूबे के मुखिया अशोक गहलोत ने अतंरराष्ट्रीय साजिश की भी आशंका जताई है। मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि ये जघन्य घटना है। गहलोत ने कहा "हमनें सीधे SIT गठित की है, SIT ने अपना काम शुरू कर दिया है। जिसने इस घटना को अंजाम दिया है उनके क्या प्लान थे. क्या षड्यंत्र था. उनका राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संगठन से लिंक तो नहीं है।"   
   
    इसके साथ ही उन्होंने कहा कि, "ये कोई मामूली घटना नहीं है। इसको हम गंभीरता से ले रहे हैं। राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रेडिकल एलिमेंट से लिंक के बिना ऐसी घटना होती ही नहीं है।" गहलोत ने कहा की मामले की गंभीरता को देखते हुए यह इसे अब राष्ट्रीय जांच एजेंसी NIA देखेगी। वही NIA अब इसे राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय आतंकवाद के एंगल से इसकी बारीकी से जांच करेंगी, जिससे भविष्य के संभावित खतरों को रोका जा सके।   
 
कटारिया ने सरकार पर साधा निशाना
   उदयपुर हत्याकांड को लेकर बीजेपी नेता गुलाबचंद कटारिया ने सीएम गहलोत पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि, "ये घटना राजस्थान पुलिस और मुख्यमंत्री की अकर्मण्यता का नतीजा है।"
 
   इसके साथ ही मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि मृतक को सुरक्षा देनी चाहिए थी। निश्चित रूप से प्रशासनिक चूक हुई है जिसके कारण ये घटना हुई है।
क्या कहां था जिहादी आंतकावादी ने अपने वायरल विडियो मे
   "मै मुहम्मद रियाज अंसारी राजस्थान उदयपुर खांजीपीर से ये विडियो मै जूम्मे के दिन बना रहां हूं। माशा अल्लाह ओर 17 तारीख है दुसरा ओर मैसेज देता हूं के इस विडियो को वायरल करूंगा उस दिन जिस दिन सरकार उल सल्ला उल सलम की शान मे गुस्ताखी की है उसका सर कलम कर दुंगा उस दिन वायरल करूंगा। ओर आपको एक मैसेज देता हूं कि रियाज ने शुरूआत तो कर दी है सर कलम करने की बाकि के जो बचे है सेक्टर 11 मे इधर-उधर बाकि का सर आपको कलम करना है। ये ध्यान रखना और ये चिन्ता भी मत करना मेरे भाई की घर मे फेमेली का क्या होगा, कारोबार का क्या होगा? मेरे भी फेमेली है, मै भी एक नौकरी करता हूं ओर मुझे इसकी कोई चिन्ता नहीं है क्योकि मै मेरे रसूले पाक के लिये ही जी रहां हूं। किसके लिये जी रहां हूं रसूले पाक के लिये ही जी रहां हूं। मेरा तो सब आप पर कुर्बान या रसूले अल्लाह इसलिये बाकि के सर आपको उतारने है घबराना मत, अल्लाह का वास्ता तुम्हे। घबराना मत ये जितने भी सर है ना काट देना बस मौत भी आ गई तो जन्नत है, जेल मे भी रहां तो कोई दिक्कत नहीं है। ओर उन दादाओ के लिये कहता हूं कि जो उदयपुर दादाओ की सीट लेकर बैठे हुए है उनके लिये एक तोहफा है जो मेरे घर से लेकर चले जाना उदयपुर के जितने भी दादा है। ये कलर के अन्दर रखी हुई है, ये हरे वाली ये है चुडिया उदयपुर के दादाओ के लिये जो बडे-बडे दादा है ना जो अपने वालो को ही मारने मे लगे हुए है, अपने वालो की ही प्रोपर्टी जब्त करने मे लगे है, तुम्हारे मे इतना कहां है जिगरा जो गैर मुस्लीम के उपर आवाज उठा सको। तुम्हारे मै इतना जिगरा नहीं है भाई अल्लाह चाहे जिसको तोफिक दे। गुस्ताखो का सर कलम करने की ये तुम्हारे बस की बात नहीं है। तुम्हारे बस की बात तो ये है कि चुडिया पहन लो। बूरा लग रहां होगा मगर आप है ना मेरी बात का गौर करना। इतने मर्डर कर देते हो एक मर्डर गुस्ताखे रसूल का नहीं कर सकते हो। लानत है तुम्हारे जैसे पर यार और मेरे भाई जितने भी ग्रुप मे सुन रहे हो ना तुम सब को भी कह रहां हू तुमपे लानत हो जाएगी। अगर किसी ने यह नहीं करा क्योकि सरकार का ये फरमान है कि गुस्ताखे नबी की एक ही सजा है सर तन से जुदा। मुहम्मद रियाज अंसारी को हर तरह से दुआओ मे याद रखना।"
Jihadi Kill Kanhiyalal in Udaipur

ए नरेन्द्र मोदी सुन ले ये छुरा तेरी गर्दन तक भी जरूर पहुंचेगा
   मै मुहम्मद रियाज अंसारी यह हमारे दोस्त मोहम्मद भाई उदयपुर मे जो माता इस्टेट वाला है उसका सर कलम कर दिया है। नब्बे के रसूल अल्लाह हम जी रहे है आप के लिये और मरेगे भी आपके लिये। ए नरेन्द्र मोदी सुन ले आग तुने लगाई और बुझाऐगे हम। इंशा अल्लाह ये अगर ये छुरा मेरे रब से दुआ करता हूुं तेरी गर्दन तक भी जरूर पहुंचेगा।

Ad Code