Headline News
Loading...

Ads Area

इस्लाम में मर्दों के लिए 72 हूरें और औरतों के लिए कुछ भी नहीं ऐसी नाइंसाफी क्यों?

एक बार जरूर देखे क्योंकि हंसी पर सबका बराबर हक़ है!

Tags

Post a Comment

0 Comments