Headline News
Loading...

Ads Area

बहू ने अपनी सास को खाने में जहर देकर मारा

 तबीयत बिगड़ी तो अस्पताल पहुंचे, इलाज के दौरान मौत
  जयपुर/राजस्थान।। देश में सास बहु के झगडे आम बात है, अक्सर घरों में देखा गया है कि सास बहु पर हुकूमत चलाने की कोशिश करती है तो कही बहु सास को अपने काबू में करने की कोशिश करती है। लेकिन यही सास बहु की लड़ाई राजस्थान के जयपुर में इस कदर बढ़ गई कि एक बहु ने अपनी ही सास को खाने में ज़हर देकर जान लेली। राजस्थान के जयपुर में एक बहू ने अपनी ही सास को सब्जी में जहर मिलाकर दे दिया। जहर युक्त सब्जी खाने के कारण सास की इलाज के दौरान मौत हो गई। जिसके बाद पीडि़त बेटे और मृतक के पति ने बहू और उसके मायके वालों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने मामले की जांच और मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर बहू के साथ मायके के चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।
Daughter-in-law killed her mother-in-law by poisoning her food
मृतका के पति ने दर्ज कराई रिपोर्ट 
  यह पूरा मामला मालवीय नगर थाना क्षेत्र का है। मृतका के पति ने रिपोर्ट दर्ज कराई है। ससुर ने बहू सहित चार लोगों पर हत्या का मामला दर्ज कराया है। मृतका के पति का आरोप है कि गेहूं में रखने वाली दवाई निकालकर बहू ने सब्जी में मिलाकर सास को दी थी। बहू ने अपने परिवार के साथ इसकी प्लानिंग की। घर पर लगे सीसीटीवी फुटेज में बहू बगल के प्लाट में कुछ फेंकते हुए भी दिखाई दे रही है। अगस्त 2022 में हुई इस घटना की एफएसएल रिपोर्ट 9 जनवरी 2023 को सामने आई है। मामले की जांच कर रहे मालवीय नगर थाने के एसएचओ ने बताया कि एफएसएल रिपोर्ट में भी जहर से मौत होना सामने आया है।
Daughter-in-law killed her mother-in-law by poisoning her food
पति और सास से करती थी झगड़ा 
  अशोक ने बताया कि शादी के बाद से ही बहू सरोज, पति और सास से झगड़ा करती थी। अपने मां-बाप ढकेली-रमेश चंद और भाई रिंकू को बुलाकर भी झगड़ती थी। कोर्ट केस कर जेल में बंद कराने की धमकियां देती थी। अक्टूबर 2018 में पोते नैतिक के जन्म के बाद भी झगड़े बंद नहीं हुए। करीब दो साल से लगातार झगड़े से परिवार परेशान होता रहा। दिसंबर 2020 में ससुर रमेश ने घर आकर दामाद और बेटी को घर की पहली मंजिल पर बने पोर्शन में शिफ्ट करवा दिया। फिर भी झगड़े कम नहीं हुए। इस बीच बहू कई बार घर छोड़कर महीनों-महीनों के लिए अपने मायके में रहती थी।

Post a Comment

0 Comments