Headline News
Loading...

Ads Area

चित्तौड़गढ़ दुर्ग पर्वतमाला श्रृंखला योजना में होगा, रोप वे को भी स्वीकृति

प्राचीन धरोहर को फिर से देश में लाना सरकार की पहली प्राथमिकता 
2013 के बाद से अब तक 229 मूर्तियां लाई गई- अर्जुन राम मेघवाल केंद्रीय मंत्री
 चित्तौड़गढ़/राजस्थान।। केंद्री पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री अर्जुन राम मेघवाल आज चित्तौड़गढ़ दौरे पर रहे। देर शाम चित्तौड़गढ़ पहुंचे जहां उन्होंने दुर्गा स्थित जौहर स्मृति स्थल पर जोहर शिलालेख का लोकार्पण करने के बाद पुरातत्व विभाग को नटराज की दुर्गा प्रतिमा सुपुर्द कीl यह मूर्ति 1998 में चोरी होकर तस्करों के हाथों लंदन चली गई थी। मंत्री मेघवाल करीब 2 घंटे लेट पहुंचे यहां जौहर स्मृति संस्थान के अध्यक्ष राव नरेंद्र सिंह सहित पदाधिकारियों की मौजूदगी में तीनों ही जोहर के शिलालेख का लोकार्पण करने के पश्चात कुंभा महल पहुंचे जहां नटराज की मूर्ति की सुपुर्दगी का कार्यक्रम था। ध्यान योगी उत्तम स्वामी सहित संतों के सानिध्य में बतौर मुख्य अतिथि पूर्व आईएएस मेघवाल ने पुरातत्व विभाग के अधिकारियों को मंत्रोचार के बीच नटराज की मूर्ति सुपुर्द की। प्रारंभ में अतिथियों के स्वागत के बाद विधायक चंद्रभान सिंह आक्या और सांसद सीपी जोशी ने अपनी बात रखी।  अपने उद्बोधन के दौरान उनकी मांगों का उल्लेख करते हुए मंत्री मेघवाल ने चित्तौड़गढ़ फोर्ट को पर्वतमाला पर्यटन योजना में शामिल करने का भरोसा दिलाते हुए रोपवे के तौर पर दुर्ग पर आने जाने के लिए वैकल्पिक मार्ग स्वीकृत करने का आश्वासन दिया और कहा कि चित्तौड़गढ़ दुर्ग के विकास को लेकर धन की कमी नहीं आएगी। इस मौके पर उन्होंने चित्तौड़गढ़ दुर्ग पर रहने वाले लोगों की मांग पर मुहर लगाते हुए मकानों की मरम्मत की स्वीकृति के लिए पुरातत्व विभाग के अधिकारियों को उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
  
  बाद में पत्रकार वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि देश की प्राचीन धरोहर जो तस्करों के जरिए बाहर चले गए थे उन्हें लाना केंद्र सरकार की प्राथमिकताओं में हैl आजादी के बाद से वर्ष 2013 तक केवल 13 मूर्तियां देश लाई जा सकी जबकि मोदी सरकार के दौरान 229 मूर्तियां लाई जा चुकी है। अभी भी बड़ी संख्या में मूर्तियों सहित धरोहर कई देशों में पड़ी है जिन्हें लाने के प्रयास किए जा रहे हैं। मानगढ़ धाम के बारे में उन्होंने बताया कि यह निश्चित ही एक बहुत बड़ा पर्यटन केंद्र बनेगाl 4 राज्य का मामला है। सबसे महत्वपूर्ण यह है कि जमीन राजस्थान के अंदर आती है। चारों ही राज्यों की सहमति के बाद यह एक प्रमुख दाम बनेगा। 
 समारोह में कपासन विधायक अर्जुन लाल जीनगर, पार्टी नेता रंणजीत सिंह, चित्तौड़गढ़ प्रधान देवेंद्र कंवर, जिला कलेक्टर अरविंद कुमार पोसवाल सहित शहर के लोग मौजूद थे। इससे पूर्व केंद्रीय मंत्री मेघवाल बेंगू तहसील के राजगढ़ तालाब में बेंगू- बिजोलिया किसान आंदोलन के शहीद रूपाजी करपाजी के उत्सर्ग की शताब्दी की स्मृति में आयोजित स्वावलंबित जैविक व मोटा अनाज कृषि प्रोत्साहन विषयक कृषक संगोष्ठी में भाग लिया।
  इस अवसर पर मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने मोटे अनाज के महत्व को समझते हुए वर्ष 2018 को राष्ट्रीय मोटा अनाज वर्ष घोषित किया था। इसी प्रकार संयुक्त राष्ट्र संघ ने 2023 को अंतरराष्ट्रीय मोटा अनाज वर्ष घोषित किया है। केंद्र सरकार जैविक कृषि को बढ़ावा देने के लिए संकल्पित हैं। इस दौरान उन्होंने मैना बाई के भजन का गायन भी किया। सांसद जोशी ने उपस्थित लोगों को जैविक कृषि अपनाने का संकल्प लेने को कहा।

Post a Comment

0 Comments