देश में दलितों की आड में बीजेपी और आरएसएस ने करवाई हिंसा : अशोक तंवर

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

देश में दलितों की आड में बीजेपी और आरएसएस ने करवाई हिंसा : अशोक तंवर

     फरीदाबाद।। 20 हजार परिवारों के 30 हजार करोड रूपये हडपने वाले एसआरएस के खिलाफ लोगों को समर्थन देने फरीदाबाद पहुंचे कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर ने प्रैसवर्ता कर केन्द्र के शीर्ष नेतृत्व पर एसआरएस को सरंक्षण देने का आरोप लगाते हुए कहा कि फरीदाबाद के दो बडे मंत्री जनता को लूटने वाले को बचा रहे हैं, इतना ही नहीं कल देश में हुई दलित हिंसा के लिए बीजेपी और आरएसएस को पूरी तरह से जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि इराक से आए 39 लोगों के शवों के मामले को छुपाने के लिए भाजपा ने दलित आंदोलन को भडक़वाया। अशोक तवंर ने कहा है कि एसआरएस, सारा रूपया साफ ग्रुप है जिसका मुद्दा अब विधानसभा और लोकसभा में उठायेंगे।
     गत दिवस पूरे देश में एससी - एसटी एक्ट मामले में दलित संगठनों द्वारा की गई दंगई के पीछे कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर ने बीजेपी और आरएसएस का हाथ बताया है, तंवर ने साफ किया है कि प्रदेश के कई जिलों बीजेपी और आरएसएस के लोगों ने दलितों के संगठन में मिलकर न केवल तांडव मचाया बल्कि दलितों को भी आगजनी और तोडफोड करने के लिये भडकाया। ताकि इराक से आए 39 लोगों के शवों के मामले को छुपाया जा सके, जिससे देश के लोगों का ध्यान भटक जाये। इस तरह के आरोप कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर ने फरीदाबाद में एक प्रैसवार्ता के दौरान लगाये,, तंवर फरीदाबाद में 20 हजार परिवारों के 30 हजार करोड रूपये हडपने वाले एसआरएस के खिलाफ लोगों को समर्थन देने पहुंचे थे, जहां उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के शीर्ष नेतृत्व के सरंक्षण के चलते एसआरएस ने जनता को लूटने का काम किया है, जिसमें फरीदाबाद के दो बडे मंत्रियों पर भी एसआरएस को संरक्षण देने का आरोप लगाया गया। इतना ही नहीं इस दौरान तवंर ने बीजेपी और बिल्डर की तुलना चोर और उसके कुत्ते से कर दी। जिसपर तंवर ने कहा कि कांगेस उन सभी परिवार के साथ खडी है जिनकी खून पसीने की कमाई को लूटा गया है, जिसके लिये कांग्रेस लोकसभा और विधानसभा में ये मुद्दा उठायेगी। वहीं एससी - एसटी एक्ट मामले में तंवर ने कहा कि दलित कानून के बदलाव में भी भाजपा ने जो मसौदा तैयार करके कोर्ट में पेश किया उसी पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना निर्णय दिया है।
    पीडित लोगो ने कहा कि उनकी मांग है कि पहले सरकार एसआरएस ग्रुप के मालिक अनिल जिंदल का पासपोर्ट जब्त करें ताकि वह भी विदेश न भाग सके, क्योंकि लोगों के जीवन की गाढी कमाई का पैसा एसआरएस ने हडप रखा है, जिसने बैंकों को भी नहीं बख्सा है करीब 10 हजार करोड रूपये का कर्ज तो बैंको से ही ले रखा है। इस मौके पर उनके साथ मुख्य रुप से प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी, प्रदेश सचिव सुमित गौड़, राजेंद्र शर्मा, एस.एल. शर्मा, मोहम्मद बिलाल, ज्ञानचंद आहुजा, नरेश गोदारा, रेनू चौहान, राजेश तेवतिया, पंकज शर्मा आदि मौजूद थे।

Ad Code