जब कक्षा 8 में पढ़ने बालक राष्ट्रीय पक्षी को बचाने के लिए कुएं में कूद गया

Breaking News

10/recent/ticker-posts

Ad Code

जब कक्षा 8 में पढ़ने बालक राष्ट्रीय पक्षी को बचाने के लिए कुएं में कूद गया

बांसवाड़ा जिले के सज्जनगढ़ पंचायत समिति के नालपाडा गांव की है घटना
 
  बांसवाड़ा/राजस्थान।। राजस्थान के बांसवाड़ा जिले के सज्जनगढ़ पंचायत समिति के एक छोटे से गांव में आंठवी कक्षा में पढ़ने वाले बालक ने उस समय पानी से भरे हुए कुएं में छलांग लगा दी, जब उसे कुएं में गिरे एक मोर पक्षी की ज़िन्दगी खतरे में दिखी। 
    जानकारी अनुसार राष्ट्रीय पक्षी मोर उड़ते हुए अचानक ही कुएं में जा गिरा जिसे कक्षा 8 में पढ़ने वाले नालपाडा गांव निवासी कल्पेश पुत्र नानकु भूरिया ने कुंए में कुदकर राष्ट्रीय पक्षी मोर की जान बचाई। घटना सज्जनगढ़ पंचायत समिति के नालपाडा गांव में सोमवार सायं चार बजे की है। 
    प्रत्यक्षदर्शी ग्रामीणों के अनुसार कुएं में गिरे राष्ट्रीय पक्षी मोर को देखते ही कल्पेश चिल्लाया जहां आसपास खेतों में फसल कटाई का काम करने वाले ग्रामीण दौड़ पड़े इतने में देखते ही देखते कल्पेश ने लबालब पानी से भरे कुएं में छलांग लगाकर मोर तक पहुंचा जहां बाहर खड़े ग्रामीणों ने रस्सी लटकाई और कल्पेश ने मोर के पांव बांधे तथा ग्रामीणों ने राष्ट्रीय पक्षी को रस्सी के सहारे बाहर खींचा तथा रस्सी खोलते ही मोर फड़फड़ाकर जंगल की और उड़ गया। मौके पर हर किसी ने कल्पेश की जीव के प्रति दया और उसकी बहादुरी की प्रशंशा की गई।

Ad Code